वर्डप्रेस इनस्टॉल करने के बाद कुछ जरूरी बेसिक सेटिंग्स

WordPress Insall Karne ke baad kya Kare, WordPress से Website और ब्लॉग बनाना बहुत आसान हो गया है. एक सच्चाई यह भी है यदि WordPress नहीं होता तो तो आज इतना ब्लॉगर भी नहीं होता. क्यूंकि यदि किसी Develpoer से ब्लॉग बनवाकर ब्लॉग्गिंग करना होता तो शायद ब्लॉग्गिंग में बहुत कम ऐसे लोग होते जो शुरुआत में इन्वेस्ट करते. Thank You WordPress. यदि मैं अपना बात भी करूं तो शायद शुरुआत में मैं भी इन्वेस्ट नहीं करता. क्यूंकि ब्लॉग्गिंग एक तरह से आम का पेड़ लगाने जैसा है. आज लगाओ कुछ साल तक खाद पानी दो उसके बाद फल मिलेगा.

complete wordpress guide in hindi

Basic Settings After WordPress Install

ब्लॉग्गिंग या वेबसाइट के लिए सिर्फ WordPress Install कर लेना ही काफी नहीं है. WordPress Theme और WordPress Plugin से सिर्फ ढांचा तैयार होता है. यदि कोई चाहे तो इतना से भी काम कर सकता है. लेकिन यदि Professional Blogging या Professional Business Website बनाना है तो कुछ बेसिक Changes बहुत जरूरी है. कई बार अपने सुना होगा Site Hack हो गया. इसका कई वजह होता है. जिसमें से पहला Domain Hijack है और दूसरा WordPress Admin Panel Hack होना. इसीलिए Basic Setting List में सबसे पहले Security के बारें में बात करेंगें.

#1 Change Admin Details

वर्डप्रेस इनस्टॉल करने के बाद सबसे पहले Default Admin login details बदलना चाहिए. कई ऐसे ब्लॉगर और वेबसाइट ओनर हैं जो इन बातों को इगनोर करते हैं. लेकिन, इगनोर करने से आगे बहुत बड़ा समस्या हो सकता है. WordPress Default Admin Login Details कैसे बदलें? 

#2 Set Blog Title, Tag Line, Site URL and Complete Profile

ज्यादातर वर्डप्रेस का इस्तेमाल ब्लॉग्गिंग के लिए किया जाता है. इसीलिए ऊपर Set Blog Title लिखा गया है. लेकिन अब कई बड़े – बड़े पोर्टल भी वर्डप्रेस पर बना हुआ है. इसमें Blog / Website का नाम, टैग लाइन और साईट का URL सही करना होता है. इसके साथ ही खुद की प्रोफाइल कम्पलीट करनी होती है. यदि कोई पोस्ट करते हो तो वह किस नाम से पोस्ट होना चाहिए? क्या किसी और को भी इस साईट पर ऑथर, एडिटर या एडमिन बनाना चाहते हो? इसे यही से सेट करना है. WordPress में ब्लॉग टाइटल, टैग लाइन साईट URL और Profile Complete कैसे करें?

#3 Change Permalink Structure

किसी भी Blog / Website SEO के लिए URL Structure का सही होना बहुत जरूरी है. In short URL Structure को ही Permalink कहते हैं. किसी भी Website / Blog SEO के लिए Title, Description, Keyword और URL structure पर काम करना बहुत जरूरी है. WordPress Blog Ke Liye Permalink Structure कैसे Set करें?

#4 Delete Demo Data and Unused Themes and Plugin

वर्डप्रेस इनस्टॉल करते समय कुछ WordPress Themes और Plugin इनस्टॉल हो जाता है. यदि Preinstall Theme ही use करना है तो अच्छी बात है. लेकिन यदि किसी और वर्डप्रेस थीम पर काम करना है तो इसे Delete कर दें. Plugin की बात करें तो काम का ही Plugin Install होता है. इसे डिलीट नहीं भी करोगे तो चलेगा. सभी थीम में कुछ न कुछ डाटा जरूर होता है. क्यूंकि डाटा के बिना पता कैसे चलेगा? थीम का लेआउट (design) क्या है? इसीलिए जो भी Demo Data (Post, Page, Image, Media, Video) सभी को Delete कर दो.

Unused Theme और Plugin से वेबसाइट पर पर कोई इफ़ेक्ट नहीं पड़ता है लेकिन, यह जगह लेता है. यदि सही तरीके से वेबसाइट चलाया जाये तो 500 MB Space Sufficient है. जैसे अभी Guruji Tips पर सिर्फ 260MB डाटा है. कई बार ऐसा भी होता है बेकार के थीम में भी हमेशा अपडेट आता रहता है और यह जगह बहुत ज्यादा लेता है. ऐसा ही प्लगइन के साथ भी होता है. Unused Plugin और जो प्लगइन Updated नहीं होता है उससे साईट का साइज़ बढ़ता है और हैक होने का भी खतरा बना रहता है.

#5 Install Important Plugin

कुछ इम्पोर्टेन्ट प्लगइन है जिसे जरूर इनस्टॉल करना चाहिए. वैसे तो ज्यादा प्लगइन के इस्तेमाल से वेबसाइट का लोडिंग स्पीड कम हो जाता है. लेकिन कुछ ऐसे भी प्लगइन है जो बहुत जरूरी है. वर्डप्रेस ब्लॉग के लिए 10 महत्वपूर्ण प्लगइन Top 10 WP Plugin इस पोस्ट में सभी इम्पोर्टेन्ट प्लगइन के बारें में बताया गया है. यदि होस्टिंग Backup plan के साथ ख़रीदा गया है तो अच्छी बात है. लेकिन यदि Backup के लिए पैसे खर्च नहीं करना चाहते हो तो वेबसाइट Backup के लिए एक Backup Plugin जरूर इस्तेमाल करना चाहिए. वर्डप्रेस में Duplicator सबसे अच्छा Backup Plugin है. मैं Duplicator Plugin के साथ Hosting में Backup Plan भी Use करता हूँ. Blog Post Publist ही Blog का Backup कर लें.

#6 Select Best WordPress Theme

जब भी कोई User वेबसाइट तक आता है तो सबसे पहले उसे Website का UI ही दिखता है. इसीलिए एक अच्छा Theme का होना जरूरी है. गुरूजी टिप्स पर जो थीम लगा हुआ है यदि वह Theme चाहिए तो Comment में बता सकते हैं. मेरे अनुसार Genesis Theme सबसे अच्छा है. लेकिन मैं अभी Genesis Theme Use नहीं कर रहा हूँ. लेकिन बहुत जल्द Genesis Theme ही Use करने वाला हूँ. अधिकतर ब्लॉगर Genesis WordPress Theme ही Use करते हैं. क्यूंकि यह SEO Friendly के साथ कई Feature भी देता है. यदि बजट है और ब्लॉग्गिंग बिज़नस कुछ इन्वेस्टमेंट के साथ करना चाहते हो तो Genesis the best option है. यदि फ्री थीम इस्तेमाल करना है तो WordPress.org या कोई Authentic Site से ही फ्री थीम डाउनलोड करना चाहिए.

नोट : हमेशा ध्यान कभी भी Paid Theme का Crack Version नहीं use करना चाहिए.

#7 Turn Off Post Revision

यदि वर्डप्रेस यूज़ करते हो या करने की सोच रहे हो तो इसमें Auto Save एक फंक्शन है. इसमें पोस्ट एडिट करते समय एक बैकअप बनता है जो डेटाबेस में Wp_Post Table का File Size बढ़ा देता है. इसकी कोई जरूरत नहीं है इसके लिए Wp-Optimize Plugin जरूर use करना चाहिए या Post Revision disable करने के लिए Cpanel में Login कर File Manager में Public_Html के अन्दर wp-config.php file में नीचे दिया गया Code add कर दें.

define( 'WP_POST_REVISIONS', false);

ऐसा करने से किसी पोस्ट का Post Revision Save नहीं होगा. यदि Code के साथ Familiar हो तभी Code में Changes करना चाहिए. यदि कोड के साथ Familiar नहीं है तो ऊपर दिया गया प्लगइन या Wp -DBManager या Optimize Database after Deleting Revision प्लगइन use करें.

#8 Disable HTML In Comment

WordPress Comment में by default HTML Allow करता है. जिससे Comment करने वाले easily hyperlink add कर सकता है. इससे कमेंट करने वाला कमेंट में अपनी वेबसाइट का Protion करता है. हालाकिं यह nofollow होता है. फिर भी इससे नुकसान है. इसीलिए Comment में hyperlink disable करने के लिए functions.php file में नीचे दिता गया कोड जोड़ दें.

add_filter( 'pre_comment_content', 'esc_html' );

#9 Submit Blog with Google Webmaster

कई ब्लोग्गेर्स का कमेंट आ चुका है मैं कुछ पोस्ट पब्लिश कर चुका हूँ. लेकिन अभी तक Google में नहीं दिखता है. वेबसाइट को गूगल और Other Search Engine में Show कराने के लिए इसे Google, Yahoo, Bing और Yandex Webmaster में Submit करें. यदि कोई SEO Plugin Use करते हो तो आसानी से Webmaster का Code इसमें लगा सकता है. लेकिन इसे head.php में भी लगा सकते हो या Webmaster एक html file देता है इस फाइल को डाउनलोड कर होम डायरेक्टरी में अपलोड कर सकते हो.

Head File में कोड insert करने के लिए Dashboard > Appearance > में Editor Click कर Right Side में head.php file में <head> </head> के बीच में Webmaster Code Add कर दें. New Content Publish करने के लिए यहाँ से Idea भी मिल जाता है.

गूगल वेबमास्टर टूल से SEO कैसे करें

Webmaster Tool से Best Keyword Research कैसे करें

#10 Connect Site With Google Analytics

Website पर कितना ट्रैफिक आया किस सोर्स से आया मतलब ट्रैफिक से जुड़ी सभी जानकारी के लिए वेबसाइट को Google Analytics के साथ जोड़े. Site Traffic Track करने के लिए Google Analytics सबसे अच्छी प्लगइन है. Google Analytics Performance Report कैसे चेक करें यह पोस्ट भी पब्लिश किया जा चुका है. Blog Post Optimize और New Content Idea के लिए Google Analytics the best free tool है.

#11 Connect Site With Feedburner

क्या आप YouTube Video देखते हो? आपने देखा होगा सभी Youtuber बोलते हैं Please Subscribe and Press Bell Icon. इसका मतलब है Youtuber जब भी कोई नई विडियो अपलोड करेगा तो उसका Notification Subscriber को मिल जाता है. ठीक ऐसे ही Website में नया कंटेंट पब्लिश होने के बाद इसका Notification reader को कैसे मिलेगा? इसके लिए ही Google Feedburner Tool का इस्तेमाल किया जाता है. Google FeedBurner के अलावे भी कई Email Service है जिसे Use कर सकते हो लेकिन Google FeedBurner The Best Tool है. Google Feedburner Activate करने के बाद RSS Feed URL मिलता है जिसे Blog में Add करना है.

#12 Insert Branding in RSS Feed

RSS Feed में Branding के लिए Logo या जो कुछ भी Text Add करना चाहते हो उसे Add कर सकते हो. इससे जब भी कोई Email Reader को मिलेगा Website Branding के साथ मिलेगा. RSS Feed में Logo Set करने के लिए functions.php file में नीचे दिया गया Code Add करना होगा.

function add_rss_logo($content) {
if(is_feed()) {
$content .= “<hr><a href=’your_blog_url’><img src=’logo_url’/></a>”;
}
return $content;
}
add_filter(‘the_content’, ‘add_rss_logo’);
add_filter(‘the_excerpt_rss’, ‘add_rss_logo’);

इस Code को functions.php में add करते समय your_blog_url की जगह Blog का लिंक और logo_URL की जगह ब्लॉग के लोगो का लिंक add करें.

#13 Change Auto Save Interval

यदि किसी ब्राउज़र या लैपटॉप किसी वजह से बंद हो जाता है तो Blog Post लिखते समय जो कुछ भी Type कर रहे हो उसे WordPress Automatic Save कर लेता है. जिससे जो कुछ भी टाइप किया जा चुका है वह मिल सके. Default Setting में वर्डप्रेस हमेशा लिखे गए पोस्ट को save करता रहता है. इस समय को अपने अनुसार कम या ज्यादा कर सकते हो इसके लिए नीचे दिया गया Code wp-config.php file में add कर सकते हो. वैसे इसका कुछ खास जरूरत नहीं है. Code में 60 का मतलब 60 seconds (1 Minute) है. इसे अपने अनुसार कम या ज्यादा कर सकते हो.

define( ‘AUTOSAVE_INTERVAL’, 60 );

#14 Hide Non-Essential WordPress Feed

WordPress Install करते ही कई RSS Feed Generate होता है. जैसे Category, Tags, Articles, Comment, Archive. इन सभी की कोई जरूरत नहीं है. किसी भी ब्लॉग के लिए blog Feed और Comment Feed ये दो जरूरी है. इसके अलावे सभी फीड को डिलीट कर देना चाहिए. क्योंकि इससे Meta Data HTML Size Increase होता है. Extra Feed Hide करने के लिए blog और Comment Feed के अलावे सभी फीड को hide करने के लिए functions.php file में नीचे दिया गया Code Add करें.

remove_action( ‘wp_head’, ‘feed_links’, 2 );
remove_action( ‘wp_head’, ‘feed_links_extra’, 3 );

#15 Redirect Other Feed

Extra RSS Feed Hide करने के बाद rest सभी RSS Feed को Blog Feed पर Redirect कर देना चाहिए. ऐसा करने से यदि कोई RSS Feed URL Open करता है तो Blog Feed URL पर redirect हो जायेगा. इसके लिए .htaccess file में नीचे दिया गया Code add कर दें. .htaccess file All In One SEO Plugin और Yost SEO Plugin की मादद से edit कर सकते हो.

<IfModule mod_rewrite.c>
RewriteEngine on
RewriteCond %{HTTP_USER_AGENT} !^.*(FeedBurner|FeedValidator) [NC]
RewriteRule ^feed/?.*$ https://feeds.feedburner.com/mygurujitips [L,NC,R=301]
</IfModule>

यहाँ http://feeds.feedburner.com/mygurujitips में mygurujitips की जगह ब्लॉग का feedburner URL Set करें.

#16 Move Media Upload Folder

By Default WordPress सभी Uploaded Images को wp-content/upload Folder के अन्दर Store करता है. यदि चाहो तो uploaded Images को किसी Sub Directory या Sub domain में transfer कर सकते हो. किसी sub domain पर image upload करने से browser pages को fast load करता है. इससे monthly image folder का समस्या भी दूर हो जाता है. Images को Sub domain या sub directory में move करने के लिए wp-config.php file में नीचे दिया गया code add करें.

define( 'WP_CONTENT_URL', 'http://img.https://www.gurujitips.in/images' );
define( 'WP_CONTENT_DIR', $_SERVER['HOME'] . '/img.https://gurujitips.in/images' );

#17 Stop WordPress from Guessing URLs

कई बार ऐसा देखा गया है blog post का half URL या गलत URL डालने पर भी Blog Post Open हो जाता है इसे ही Guessing URL कहते हैं. जैसे www.gurujitips.in/blog-kaise Open करोगे तो www.gurujitips.in/blog-kaise-banaye open हो जाता है. ऐसा ही Category और Tag के साथ होता है. यह SEO के लिए सही सिग्नल नहीं है. guessing URL को स्टॉप करने के लिए functions.php में नीचे दिया गया Code Add कर सकते हैं. ऐसा करने से जो URL website में नहीं है उसकी जगह 404 का Error Show होगा.

remove_filter('template_redirect', 'redirect_canonical');

यदि वेबसाइट को और भी ज्यादा SEO Friendly बनाना चाहते हो तो ऊपर दिए गए Code की जगह नीचे दिया गया Code Add करो. यदि Code के साथ Familiar नहीं हो तो Disable URL Autocorrect Guessing Plugin भी Use कर सकते हो.

add_filter('redirect_canonical', 'bs_no_redirect_404');
function bs_no_redirect_404($redirect_url)
{
 if (is_404()) {
 return false;
 }
 return $redirect_url;
}

#18 Always Use Latest WP Version, Theme and Plugin

हमेश वर्डप्रेस, Theme और Plugin का Latest Version ही Use करना चाहिए. यदि WP Version, Theme और Plugin का Update आता है तो उसका Latest Version जरूर update करना चाहिए. Old Version में Hack होने का खतरा ज्यादा होता है.

#19 Turn Off Pingback Back and Trackback

SEO कहता है Interlinking और Internal linking के लिए एक पोस्ट का URL दूसरे पोस्ट में hyperlink करना होता है. ऐसा करने से trackback और PingBack का notification मिलता है. ऐसा होने से Database का size बड़ा हो जाता है और साईट का लोडिंग स्पीड भी कम हो जाता है. इसके लिए Dashboard > Settings > Discussion में नीचे दिय गए Screen Short के अनुसार Default Article Settings में Attempt to notify any blogs linked to from the article और  Allow link notifications from other blogs (pingbacks and trackbacks) on new articles को unchecked कर save कर दें.

default article settings

 #20 Install Cache Plugin

WordPress Site Fast Loading के लिए Cache Plugin जरूर Use करना चाहिए. इसके लिए WP-Rocket, W3 Total Cache, WP Super Cache The Best Plugin है. यदि कोई यह पूछे इन सब में से सबसे ज्यादा अच्छा कौन सा है तो W3 Total Cache सबसे अच्छा है. Newbie Blogger के लिए WP Super Cache the best plugin है. क्यूंकि इसे Setup करना बहुत आसान है.

#21 Install and setup SEO Plugin

वैसे तो WordPress SEO Friendly होता है. लेकिन इसे और भी SEO Friendly बनाने के लिए Manually SEO Plugin का Setup जरूरी है. SEO प्लगइन में वह सभी Features होता है जिससे इसे और भी SEO Friendly बनाया जा सके. इसके लिए दो प्लगइन है. All in One SEO Plugin और Yoast SEO Plugin इन दोनों का Setup आसान नहीं है. इसके लिए Guidance की जरूरत है. कुछ ब्लोग्गेर्स का कहना है Yoast अच्छा है तो कुछ का कहना है All in One अच्छा है. मेरे अनुसार यदि Free में Use करना है तो All in One और Premium use करना है तो Yoast SEO Plugin ज्यादा अच्छा है.

#22 Use CDN

CDN का Full form Content Delivery Network है. इससे वेबसाइट की लोडिंग स्पीड फ़ास्ट हो जाता है. CDN की मदद से Browser site Content को फ़ास्ट लोड करता है. क्यूंकि जब भी कोई User HTTP request भेजता है तो Browser CDN से data fetch करता है. यदि कभी Server Down होता है तो Browser CDN में Store file यूजर को दिखता है. CDN free और Paid दोनों ही उपलब्ध है. अपने बजट के अनुसार इसका इस्तेमाल कर सकते है.

लगभग सभी पोपुलर ब्लॉग CDN Use करता है. CDN के लिए MaxCND और Cloudflare का इस्तेमाल किया जाता है. इसमें MaxCDN सबसे अच्छा है. CloudFlare Free और Paid दोनों CDN Provide करता है. CloudFlare Free CDN Service के साथ Free SSL Certificate भी देता है. लेकिन अभी लगभग सभी Hosting Provider Lets Encrypt का Free SSL Provide करता है.

#23 Setup Gravator

यह जरूरी सेटिंग नहीं लेकिन UI (User Interface) के लिए यह कर सकते हैं. यह एक तरह का अवतार है. पोस्ट के नीचे Aothor का जो फोटो दिखता है वह यही अवतार है. इसके लिए gravatar.com पर signup कर अपना फोटो सेट कर सकते हैं. WordPress में User Add करते समय यह किया जाता है. इसके लिए जिस Email से wordpress.org या wordpress.com पर ID बनाया गया है उस ईमेल से gravatar.com पर Signup कर Profile Picture Set करना होता है. जब कभी किसी वेबसाइट पर कमेंट करोगे तो यही इमेज वहाँ दिखता है.

gravatar

यहाँ ऊपर दिए गए स्क्रीन शोर्ट में नाम से पहले जो Picture दिख रहा है वह Gravtar है.

#24 Media Settings

यह बहुत ही जरूरी स्टेप है. In General WordPress में जो भी Image Upload किया जाता है वर्डप्रेस उसे कई और साइज़ में क्रिएट कर देता है. इससे Website का File Size ज्यादा हो जाता है. इस तरह unwanted Data से Site की Loading Speed Slow हो जाता है और साईट खुलने में बहुत ज्यादा समय लगने लगता है. इसके लिए WordPress > Dashboard > Settings > Media पेज खोले और नीचे दिए गए स्क्रीन शोर्ट के अनुसार सही कर लें.

Thumbnail Size, Medium Size और Large Size सभी पर Width और Height 0 Px सेट कर दें. Crop thumbnail to exact dimensions (normally thumbnails are proportional) इस आप्शन को भी deselect कर दें.

media settings in wordpress

इसके अलावे इमेज Optimize और Size कम करने के लिए कुछ plugin का इस्तेमाल कर सकते हैं. लेकिन हमेशा कम से कम Plugin ही install करने की सोचें. ऐसे में Image Size कम करने के लिए पहले Image Size कम कर लें फिर इसे अपलोड करें. इसके लिए functions.php में Code भी add कर सकते हैं. लेकिन, इसकी कोई खाश जरूरत नहीं है.

//* Add new image sizes by gtips
add_image_size( 'home-middle', 310, 157, true );
add_image_size( 'home-top', 620, 314, true );
add_image_size( 'sidebar-thumbnail', 150, 150, true );

#25 Edit Navigation Menu

Navigation Menu जहाँ WordPress में Page या Category का लिंक रहता है. जब WordPress Install किया जाता है तो डेमो पेज और पोस्ट का लिंक यहाँ रहता है. WordPress Install करते ही सभी Demo Data delete कर वेबसाइट / ब्लॉग की जरूरत के अनुसार पेज केटेगरी क्रिएट कर इसे Navigation Menu में सेट करें.

wordpress menu

Navigation Set करने का दो तरीका है पहला Live Preview इसके लिए Dashboard > Appearance > Customize दूसरा Dashboard > Appearance > Menu पहले मेनू क्रिएट करना होता है इसके बाद उसका Location Set करना होता है. ज्यादातर Website में Hearder में ही Menu दिखता है. यदि कही कुछ और पेज और Category दिखाना है तो उसका भी Menu बनाकर सेट कर सकते हो. जैसे इस ब्लॉग के फूटर में जो लिंक है वह Menu बनाकर ही लगाया गया है.

#26 Set Comment & Discussion Settings

जैसे Social Media Sites पर किये गए Post पर Like, Comment और Share करते हो वैसे ही वर्डप्रेस के पोस्ट पर भी Comment कर सकते हैं. सोशल मीडिया पर किया गया कमेंट करते ही लाइव हो जाता है मतलब सभी को दिखने लगता है. लेकिन WordPress Post पर किया गया Comment Approve किये बिना नहीं दिखता है. मतलब जो कमेंट चाहते हो सभी को दिखे वही कमेंट दिखेगा.

यदि चाहो तो सिर्फ वही लोग कमेंट कर सकत हैं जो Website पर Registered हो. या फिर वो ब्लॉग का Membership ले रखा हो. कई विकल्प है, विकल्प की कमीं नहीं है. In General वर्डप्रेस पोस्ट पर कमेंट करने के लिए यूजर को Name, Email Website URL की जरूरत होती है. यहाँ Website URL Mandatory नहीं है.

Comment Section Edit करने के लिए Dashboard > Settings > Discussion के अन्दर कमेंट के बारें में सभी बदलाव कर सकते हैं.

wp comment settings

#27 Create Important Pages

Website Live करने से पहले Important Pages जरूर Live कर लें. इसके बारें में एक Detail Post Publish किया गया है. इस Pages से साईट की Authencity बढती है. बहुत शोर्ट में जान लें Important Page क्या है.

  • About Us इस पेज से यूजर का ट्रस्ट बढ़ता है. वेबसाइट / ब्लॉग का मकसद क्या है इसे कौन संचालित कर रहा है?
  • Contact Us यदि किसी यूजर का कोई प्रश्न है तो वह इस पेज की मदद से आसानी से साईट एडमिन से कांटेक्ट कर सकता है.
  • Privacy Policy यदि वेबसाइट यूजर का इनफार्मेशन जैसे नाम ईमेल, फ़ोन नंबर लेती है तो वह इसका क्या करती है?
  • Terms & Condition वेबसाइट यूज़ करने के लिए Terms & Conditions क्या है?
  • Disclaimer थर्ड पार्टी एक्शन से बचने के लिए यह पेज जरूरी है. जैसे यदि किसी का Logo, Image Site पर है तो इसके लिए वह Copyright नहीं दें.
  • इसके अलावे भी यदि कोई जरूरी पेज लगता है तो क्रिएट कर सकते हैं लेकिन यह सभी पेज बहुत जरूरी है. Blog / Website के लिए Important Pages कैसे Create करें?

#28 Configure Reading Settings

Visitors को क्या दिखाना चाहते हो उसके अनुसार Dashboard > Settings > Reading में नीचे दिए गए स्क्रीन शोर्ट के अनुसार सेट कर लें.

wp reading settings

  • Your Home Page Display वेबसाइट के होम पेज पर यूजर को लेटेस्ट पोस्ट या कोई सिंगल पेज पेज दिखाना चाहते हो वह सेट करना होता है.
  • Blog pages show at most के पेज पर कितना पोस्ट दिखाना कहते हो यदि ज्यादा Scroll नहीं चाहिए तो यहाँ कम पेज ही दिखाना ज्यादा अच्छा है.
  • Syndication feeds show the most recent ब्लॉग RSS Feed में कितना पोस्ट दिखाना चाहते हो.
  • For each article in a feed, show ब्लॉग पोस्ट का Full Article या Summary दिखाना चाहते हो.
  • Search Engine Visibility इससे Search Engine को डाटा Fetch करने से रोक सकते हो. इसका इस्तेमाल वेबसाइट बनाने के समय किया जाता है. जैसे जिस वक़्त वेबसाइट बन रहा होता है उस समय कई पेज और पोस्ट क्रिएट और डिलीट होता है. इसीलिए इस वक़्त Search Engine को Crawl करने से रोका जाता है.

#29 Add 404 Page

कई बार ऐसा होता है जब User Website का कोई पेज करता है लेकिन वह पेज एडमिन डिलीट कर चुका होता है या वह URL वेबसाइट में मौजूद नहीं है. ऐसे में यूजर को बताना जरूरी है यह पेज हमारी साईट में मौजूद नहीं है. इसके लिए ही Error 404 का इस्तेमाल किया जाता है. Error 404 Page में Popular Post, Latest Post और Search Box भी रखना चाहिए जिससे User को Engage किया जा सके.

#30 WordPress Security

WordPress Security में कई बातें शामिल है. जैसे Admin Login URL, Change Default Login Details, Protect Admin Area, Backup, Remove Spam Comment. Internet की दुनिया में सिक्यूरिटी बहुत जरूरी है. यदि होस्टिंग में Backup Plan भी है तो जरूरी नहीं लेकिन यदि Backup Plan नहीं है तो Daily Backup लेना चाहिए. इसके अलावे WordPress Security में DDoS Attack, Spam in Search Engines, Disable by host, Infacted with malware, blacklisted by google यह समस्या भी आता है. इसके लिए www.sucuri.net का Service ले सकते हैं.

#31 Disable File Editing inside WordPress

जब कभी भी वर्डप्रेस एडमिन पैनल में लॉग इन किया जाता है तो सभी पेज के नीचे Edit का विकल्प दिखता है. जैसा की नीचे स्क्रीन शोर्ट में दिख रहा है.

edit post

By Default WordPress PHP File Editing allow करता है. लेकिन ब्लॉग / वेबसाइट पर एक से ज्यादा Author है तो इससे समस्या उत्पन्न हो सकता है. इसीलिए ज्यादा अच्छा रहेगा इस Editing Feature को Disable कर दिया जाये. File Editing Feature Disable करने के लिए wp-config.php file में नीचे दिया गया Code Add कर दें.

define( 'DISALLOW_FILE_EDIT', true );

#32 Set Expire Header For Static Content

जब भी कोई यूजर किसी वेबसाइट का इस्तेमाल करता है तो Browser, Website का Cache File Store कर लेता है. यह Cache File Static Data का होता है. जैसे CSS, JavaScript, Images. Expiry date set नहीं होने की वजह से यह Static Data Browser के Cache Memory में बना रहता है. यदि कभी Website Design Change करने के लिए CSS, JavaScript Change किया जाता है तो यूजर को यह Changes दिखने में काफी समय लग जाता है. इसे Manually Control किया जा सकता है.

W3 Total Cache Plugin में यह Feature inbuilt रहता है. लेकिन यदि यह Plugin नहीं यूज़ कर रहे हो तो ऐसे में नीचे दिया गया Code .htaccess file में Add कर expire header for static content को Control कर सकते हो.

<IfModule mod_expires.c>
# Enable expirations
ExpiresActive On 
# Default directive
ExpiresDefault "access plus 1 month"
# My favicon
ExpiresByType image/x-icon "access plus 1 year"
# Images
ExpiresByType image/gif "access plus 1 month"
ExpiresByType image/png "access plus 1 month"
ExpiresByType image/jpg "access plus 1 month"
ExpiresByType image/jpeg "access plus 1 month"
# CSS
ExpiresByType text/css "access plus 1 month"
# Javascript
ExpiresByType application/javascript "access plus 1 year"
</IfModule>

#33 Hide Folder (Browse Folder Option)

किसी वेब ब्राउज़र में Explorer View का use कर WordPress folder और files को देखा जा सकता है. यह SEO और Security दोनों ही वजह से नुकसानदेह है. Website Directories को Search Engine और user दोनों से ब्लाक करना चाहिए. जिससे Google, Theme और Plugin Folder को Index नहीं करे.

इसके लिए robots.txt file में wp-content/themes और wp-content/plugins दोनों Folder को Disallow करें. Theme और Plugin के बारें में Search Engine को बता कर कोई फायदा नहीं है.

Website User से यह डाटा हाईड करने के लिए .htaccess file में नीचे दिया गया Code Add करें इसके बाद कोई भी WordPress Installation Directory नहीं खोल सकता है.

Options All -Indexes

#34 Remove Extra Querry Parameter URLs

WordPress Blog Post URL में /?utm=ga, /?ref=feedly, /?share के साथ भी Same Post Open होता है. जैसे https://www.gurujitips.in/?ref=feedly यह Different URL है फिर भी Same Content Open होता है. यह SEO के लिए उचित नहीं है. Google Webmaster में यह URL देखने को मिल सकता है. इस Issue को Fix करने के लिए .htaccess file में नीचे दिया गया Code Add कर सकते हैं.

<IfModule mod_rewrite.c>
RewriteEngine On
RewriteCond %{QUERY_STRING} !=””
RewriteCond %{QUERY_STRING} !^p=.*
RewriteCond %{QUERY_STRING} !^s=.*
RewriteCond %{REQUEST_URI} !^/wp-admin.*
RewriteRule ^(.*)$ /$1? [R=301,L]
</IfModule>

NOTE कई बार यह कोड डालने के बाद भी यह URL खुल जाता है.

#35 Try Anti AdBlocker Plugin or Script

इसका मतलब है कुछ ऐसे User हैं जो Browser पर Ad Block कर देते हैं. जिससे जब भी वह कोई वेबसाइट यूज़ करे तो Advertisement नहीं दिखे. यह user के लिए सही है लेकिन यदि Advertisement नहीं दिखेगा तो Website Admin को क्या फायदा होगा? कई ऐसे भी यूजर हैं जो UC Browser पर ही Website Surf करते हैं और UC Browser पर Ad Block ही रहता है.

यदि Adblocker को deactivate कर दिया जाये तो Adsense Revenue 20 से 30% तक बढ़ जायेगा. इसके बारें में एक Detail Post लिखने की भी जरूरत हो सकती है. यदि इसकी Detail Information चाहिए तो कमेंट कीजिये. Ad Block Script के लिए भी Comment कीजिये.

#36 Edit Robots.Txt File and Generate Sitemap

Website Live होने के बाद Admin ज्यादा से ज्यादा Traffic का उम्मीद लिए काम करने की शुरुआत करना होता है. लेकिन Search Engine को क्या पता कोई और भी है जो इस Topic पर कंटेंट लाइव कर रहा है. इसके लिए Robots.txt file और Sitemap Generate करना जरूरी है.

You May Also Read

BLOG पर क्या लिखें, कैसे लिखें और क्यूँ लिखें?

Blog Directory Alphabetically Hindi Blog List

वेबसाइट के लिए अच्छी वेब होस्टिंग कैसे चुनें?

ब्लॉग्गिंग कैसे करें Blogging Kaise Kare

ब्लॉग्गिंग के लिए कब, कहाँ और कितना पैसा खर्च करें?

Conclusion WordPress Basic Settings

यह कुछ बेसिक वर्डप्रेस सेटिंग्स है जिसे वर्डप्रेस इनस्टॉल करते ही करना चाहिए. इसके अलावे भी कई और WordPress Settings है जिसकी जरूरत है लेकिन समय के साथ उसकी समझ आ जाएगी और कर लोगे. लेकिन शुरुआत में इतनी सेटिंग्स जरूरी है. यदि आपको लगता है इसके अलावे भी कोई जरूरी WordPress Settings है तो Comment Box में जरूर बताएं. इसके अलावे WordPress Advance Installation Guide भी खरीद सकते हो.advanced wp guide

People May Also Search : wordpress installation steps, how to install wordpress, wordpress kaise install kare, wordpress kaise sikhe, wordpress kya hai, wordpress installation tutorial in hindi, wordpress installation guide in hindi, best wordpress theme, best wordpress plugin.

Subscribe for Quick Update

About the Author: Guruji Tips

Guruji Tips is a website to provide tips related to Blogging, SEO, Social Media, Business Idea, Marketing Tips, Make Money Online, Education, Interesting Facts, Top 10, Life Hacks, Marketing, Review, Health, Insurance, Loan and Internet-related Tips. यदि आप भी अपना Content इस Blog के माध्यम से publish करना चाहते हो तो कर सकते हो. इसके लिए Join Guruji Tips Page Open करें. आप अपना Experience हमारे साथ Share कर सकते हो. धन्यवाद !
loading...

Related Post

20 Comments

  1. WordPress install karne ke baad kai settings karni hoti hai jo aapne bataya hai. sir isme kai settings hai jo logo ko pata nahi hai. Thank you for this article.

  2. वर्डप्रेस के आने से ब्लॉग बनाना बहुत आसान हो गया लेकिन, कुछ जरूरी बेसिक सेटिंग्स है जो इस पोस्ट में बताया गया है. जैसे सेटिंग्स में मीडिया में बदलाव जरूरी था. अब से पहले एक इमेज अपलोड करने से कई इमेज फाइल ओर भी बन जाता था.

  3. वर्डप्रेस इनस्टॉल करने के बाद इतना कुछ करना होता है यह तो पता ही नहीं था.

  4. वर्डप्रेस इनस्टॉल करने के बाद कई जरूरी सेटिंग्स है जिसके बारें में अभी तक नहीं पता था. लेकिन आज यज पोस्ट पढने से कई अन्य जानकारी मिली. लेकिन क्या वर्डप्रेस इनस्टॉल करने के बाद इतना सब करना होगा.

  5. गुरूजी आपने बहुत ही अच्छी जानकारी दी है. वर्डप्रेस इनस्टॉल करने के बाद अक्सर कई सवाल मन में आता है. शुक्रिया आपने सभी प्रश्नों का जवाब एक ही पोस्ट में दे दिया.

  6. ब्लॉग बनाना वर्डप्रेस इनस्टॉल करना बहुत आसान ही गया है कई वेबसाइट पर वर्डप्रेस इनस्टॉल कैसे करें इसके बारें में बताया गया है. लेकिन यहाँ आपने बहुत ही डिटेल में बताया है. आपका बहुत बहुत धन्यवाद.

  7. Guruji WordPress Install karne ke itna customize karna hota hai mujhe pata nahi tha. lekin aapne jitna customization bataya hai usme se kai jaroori customization hai.

  8. Guruji WordPress install karne ke baad kai kaam karna hota hai yah to mujhe pata hi nahi tha lekin aaj is post ko padhne ke baad pata chala wordpress install karne ke baad bhi kai kaam karna hota hai.

  9. अभी तक सिर्फ इतना पता था कि वर्डप्रेस इनस्टॉल करो और पोस्ट पब्लिश करना शुरू कर दो. लेकिन आज यह यह पोस्ट पढने के बाद पता चला वर्डप्रेस इनस्टॉल करने के बाद कई काम करना होता है. यह जानकारी देने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद गुरूजी.

  10. Wordpres Install kaise kare yah to janti thi lekin itna sab nahi pata tha wordpress install karne ke baad bhi bahut kuchh karna hota hai. Thank you for such type of information.

  11. Guruji aapne bahut hi achi information share kiya hai. Kai naye bloggers shuru me changes nhi kar pate hai aur baad me unhe paresani hoti hai. Yaha aapne pahle hi change karne ko bat diya hai.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *