एलआईसी जीवन लक्ष्य कन्यादान पॉलिसी क्या है?

एलआईसी जीवन लक्ष्य (प्लान 833) और LIC Kanyadan Policy दोनों एक ही है. यह एक सीमित प्रीमियम, नॉन-लिंक्ड (Limited Premium, Non-linked participating endowment) एंडोमेंट प्लान है. एलआईसी जीवन लक्ष्य इन्शुरन्स पॉलिसी बचत का बहुत ही अच्छा तरीका है, जो एक ही समय पर सुरक्षा के साथ बचत भी प्रदान करता है. इस योजना के तहत पॉलिसी धारक को मिलनेवाला मृत्यु लाभ वार्षिक इंस्टालमेंट में दिया जाता है, जो पालिसी धारक की मृत्यु के बाद उसके परिवार की वित्तीय जरूरतों को पूरा करता है. पॉलिसी धारक की मृत्यु हो जाने पर वार्षिक भुगतान के अलावा मैच्युरिटी के समय अतिरिक्त 110% की राशि नॉमिनी को दी जाती है. यह पॉलिसी एलआईसी द्वारा घोषित किए गए बोनस का लाभ भी हर साल देती है.

lic kanyadan policy in hindi

LIC Jeevan Lakshya Insurance policy में दो अतिरिक्त राइडर लेने की भी सुविधा उपलब्ध है. “दुर्घटना मृत्यु राइडर” और “दिव्यांग लाभ राइडर” “न्यू टर्म अस्सुरैंस राइडर”.

प्रारंभ तिथि 12 मार्च, 2015
तालिका संख्या 833
प्रोडक्ट का प्रकार एंडोमेंट
बोनस उपलब्ध
युआईएन 512N289V01

LIC Jeevan Lakshya Details in Hindi

  • यह सीमित प्रीमियम भुगतान योजना (Limited Premium Payment Plan) है.
  • इसमें प्रीमियम कम समय तक देना होता है और कवर अधिक समय तक मिलता है.
  • काम से काम 13 साल और ज्यादा से ज्यादा 25 साल के लिए यह पॉलिसी खरीद सकते हो.
  • इसमें मैच्युरिटी से तीन साल कम प्रीमियम देना होता है.
  • काम से काम 18 वर्ष ज्यादा से ज्यादा 25 साल का व्यक्ति इस पॉलिसी को खरीद सकता है.
  • पॉलिसी मैच्युरिटी का अधिकतम आयु 65 वर्ष है.
  • काम से काम 1 लाख रुपये का बीमा खरीद सकते हैं ज्यादा का कोई लिमिट नहीं है.
  • इस पॉलिसी की खास बात इसके साथ दुर्घटना, मृत्यु और विकलांगता में से कोई दो राइडर खरीद सकते हो.
  • तीन वर्ष बाद  लोन भी ले सकते हो.
  • इसमें 80C के तहत प्रीमियम भरने पर टैक्स लाभ भी दिया जाता है.
  • मेच्योरिटी के समय मिलने वाली राशि 10D कर मुक्त है.

एलआईसी जीवन लक्ष्य पॉलिसी की शर्तें

एलआईसी कन्यादान योजना  कम से कम अधिक से अधिक
बीमित रकम (रु) 1,00,000 कोई सीमा नहीं
पालिसी की अवधि(वर्ष) 12 से 25
प्रीमियम भुगतान की अवधि(वर्ष) पालिसी अवधि से 3 वर्ष काम
पालिसी धारक की प्रवेश आयु 18 वर्ष 50 वर्ष
मैच्युरिटी आयु 65 वर्ष
भुगतान मोड वार्षिक, छमाही, तिमाही, मासिक(ESS मोड) और SSS

एलआईसी जीवन लक्ष्य पॉलिसी की विशेषताएं

  • यह बीमा बोनस घोषणाओं के साथ होने की वजह से मैच्युरिटी के समय मिलने वाले लाभ को बढ़ा देता है.
  • डेथ क्लैम लाभ पॉलिसी अवधि के दौरान वार्षिक इंस्टालमेंट में के साथ मैच्युरिटी के समय भी लम्प सम रूप में दिया जाता है.
  • संपूर्ण रूप लिए इस योजना के तहत दो अतिरिक्त राइडर (दुर्घटना मृत्यु राइडर” या दिव्यांग लाभ राइडर तथा न्यू टर्म अस्सुरैंस राइडर) भी खरीदने की सुविधा उपलब्ध है.
  • तीन साल पॉलिसी चला लेने पर लोन भी ले सकते हैं.
  • पॉलिसी धारक की मृत्यु होने पर हर साल नॉमिनी को कुछ पैसे आय के रूप में दिया जाता है. इस सुविधा का उपयोग बाल शिक्षा और परिवार की सुरक्षा के रूप में किया जा सकता है.
  • प्रीमियम पर Sec 80-C के तहत आयकर छूट दी जाती है.
  • मैच्युरिटी राशि भी Sec 10(10-D) के तहत कर मुक्त रखा गया है.

LIC Jeevan Lakshya Death Benefit

  • बीमा कंपनी के ज़्यादातर प्लान में धारक की मृत्यु पर नॉमिनी को एक मुश्त राशि दे दी जाती है.
  • एलआईसी जीवन लक्ष्य कन्यादान योजना अन्य पॉलिसी से बिलकुल अलग है.
  • बीमा धारक की मृत्यु के बाद मैच्युरिटी से एक वर्ष पहले तक हर वर्ष बीमा राशि की 10% राशि मिलती है.
  • पॉलिसी मेच्योर होने पर बीमा राशि की 110% साथ में बोनस भी दिया जाता है.
  • मैच्युरिटी के समय 110% बीमा राशि, निहित साधारण प्रत्यावर्ती बोनस, अंतिम अतिरिक्त बोनस सब जोड़ के दिया जाता है.
  • यदि पॉलिसी धारक, पालिसी खरीदने के 12 महिने के भीतर आत्महत्या कर लेता है तो, नॉमिनी को भरे हुए प्रीमियम का सिर्फ 80% रकम वापस मिलेगा.
  • यदि पॉलिसी धारक, पालिसी रिवाइवल के 12 महिने के भीतर आत्महत्या करता है तो उसके मृत्यु तक के सरेंडर वैल्यू या भरे हुए प्रीमियम का 80% दोनों में जो ज्यादा है वो नॉमिनी मिलेगा.
  • यदि ग्राहक “दुर्घटना मृत्यु राइडर” और “दिव्यांग लाभ राइडर” लिया है और मृत्यु का कारण आत्महत्या, खुद से पहुंचाई छति, सामाजिक हंगामा, दंगे, पुलिस की गतिविधियों से, आपराधिक कृत्य में भागीदारी से, नशीली दवाओं के उपयोग के कारण या किसी दुर्घटना के 180 दिन बाद होनेवाली परेशानियों से मृत्यु होती है तो राइडर लाभ नहीं मिलेगा.

एलआईसी साधारण प्रत्यावर्ती बोनस (Simple Reversionary Bonus) की घोषणा हर वर्ष करती है. बोनस की रकम हर वर्ष बदल भी सकती है. यह बोनस बीमा राशि पर निर्भर करता है. बोनस की घोषणा प्रति 1,000 रुपये के बीमा राशि पर होता है. अंतिम अतिरिक्त बोनस (Final Additional Bonus) मैच्युरिटी या मृत्यु के वर्ष में लागु होता है.

एलआईसी जीवन प्रगति प्लान की पूरी जानकारी (टेबल नं 838)

LIC Jeevan Lakshya Policy Maturity Benefit

  • मैच्युरिटी में बीमित रकम, सरल प्रत्यावर्ती बोनस, और अंतिम संवर्द्धन बोनस (एफएबी) जोड़ के दिया जाता है.
  • इस पॉलिसी का रिटर्न पॉलिसी अवधि के दौरान की गई बोनस घोषणा पर निर्भर करता है.
  • बोनस की कोई गारंटी नहीं है.
  • बोनस एलआईसी इन्वेस्टमेंट के परफॉरमेंस पर निर्भर करती है.

Guruji Tips For Jeevan Lakshya Policy

  • डेथ क्लैम को देखा जाये तो यह बहुत ही बढ़िया पॉलिसी है.
  • हर स्थिति और परिस्थिति में जिस लक्ष्य के लिए निवेश कर रहे हैं, उस लक्ष्य के लिए निवेश जारी रहता है.
  • इस पालिसी में रिटर्न बहुत ज्यादा नहीं है. लेकिन, फिर भी यह पॉलिसी जरूर लेनी चाहिए.
  • इसके साथ यदि टर्म इन्शुरन्स लेते हो तो ज्यादा अच्छी बात है.
  • टर्म इंश्योरेंस में भी ऐसे विकल्प होते हैं, जिसमें बीमित व्यक्ति की मृत्यु होने की स्थिति में कुछ वर्षों तक नॉमिनी को नियमित आय दी जाती है.

Documents required for Insurance Policy

  • हस्ताक्षर और विधिवत भरा हुआ योजना प्रस्ताव फॉर्म
  • पहला प्रीमियम भरने के लिए चेक या कैश
  • पासपोर्ट फोटो
  • वैध्य पहचान पत्र
  • वैध्य पते का सबूत
  • जन्म प्रमाणपत्र
  • वैध्य आय प्रमाणपत्र

प्रीमियम जाना नहीं करने से क्या होगा

फ्री लुक पीरियड : यदि पॉलिसी धारक लिए गए बीमा से खुश नहीं है तो इसे खरीदने के 15 दिन के अंदर रद्द करवा सकता है. पालिसी रद्द होते ही जमा की गई पूरा रकम ग्राहक के बैंक कहते में वापिस कर दिया जाता है.

ग्रेस पीरियड : तय तारीख पर प्रीमियम भरना जरूरी है. यदि किसी कारणवश तय तारीख पर प्रीमियम नहीं भर पाए तो, प्रीमियम भरने के लिए एक अतिरिक्त समय दिया जाता है जिसे ग्रेस पीरियड कहते है. यह तीस दिन का होता है. मासिक प्रीमियम भरने वाले पालिसी धारक को 15 दिन का ग्रेस पीरियड दिया जाता है.

पेड अप रकम : यदि ग्रेस पीरियड में भी प्रीमियम का भुगतान नहीं किया जाता है, तो पालिसी बंद हो जाती है. यदि तीन वर्ष तक लगातार प्रीमियम जमा नहीं किया गया तो पॉलिसी पेड अप पॉलिसी में बदल जाता है. इसमें मिलनेवाली राशि का भुगतान वास्तविक देय प्रीमियम के अनुपात से भी कम है. इसमें जमा हुआ बोनस भी जोड़ा जाता है.

इसके आलावा, यदि 3 वर्ष का प्रीमियम जमा करने के बाद पॉलिसी बंद हो गई और पॉलिसी धारक की मृत्यु 6 महीने के अंदर हो जाती है तो नॉमिनी को उस साल का बकाया प्रीमियम काटकर पूरा मृत्यु लाभ मिलेगा.

यदि 5 साल का प्रीमियम जमा करने के बाद पॉलिसी बंद हो गई और पॉलिसी धारक की मृत्यु 12 महिने के अंदर हो जाती है तो, नॉमिनी को बकाया प्रीमियम काटकर पूरा मृत्यु लाभ मिलेगा.

रिवाइवल : बंद पॉलिसी जो पेड अप बेसिस पर है, उसका रिवाइवल किया जा सकता है. यह रिवाइवल पॉलिसी बंद होने के दो वर्ष के अन्दर किया जाता है. पालिसी रिवाइवल के लिए, बकाया प्रीमियम और ब्याज दोनों जमा करना होता है.

सरेंडर वैल्यू : यदि पॉलिसी धारक ने 3 साल तक प्रीमियम भरा और सरेंडर करता है तो सरेंडर मुल्य वैल्यू क्लैम कर सकता है. सरेंडर करने पर गारंटीड सरेंडर वैल्यू या स्पेशल सरेंडर वैल्यू दोनों में से जो ज्यादा है वह बीमा कंपनी ग्राहक को देती है.

गारंटीड सरेंडर मुल्य (गारंटीड सरेंडर मुल्य फैक्टर * कुल भरा हुआ प्रीमियम + बोनस का गारंटीड सरेंडर मुल्य फैक्टर * जमा हुआ बोनस) स्पेशल सरेंडर मुल्य कंपनी के भविष्य के प्रदर्शन पर निर्भर करता है.

You May Also Read

इन्शुरन्स पॉलिसी कैसे बेचें Top Best Tips in Hindi

Paytm Postpaid से बिना पैसे की खरीदारी कैसे करें

क्रेडिट कार्ड क्या हैं, Credit Card Kya Hai

Top 5 Financial Target before age of 30

फाइनेंस क्या है What is Finance in Hindi

LIC Jeevan Lakshya Policy Notes

    • Risk Cover पॉलिसी अवधि के अंत तक
    • Risk Cover Starts जिस बच्चे की आयु 8 वर्ष से कम है, उनके पॉलिसी लेने के 2 साल बाद या 8 साल की उम्र से जोखिम शुरू होगा.
    • Locking Period 3 साल
    • Loan Facility उपलब्ध है
    • Income Tax Rewait प्रीमियम भुगतान के लिए धारा 80 सी के तहत और मैच्युरिटी रिटर्न के लिए धारा 10 D तहत.
    • Riders उपलब्ध है।
    • Policy Revival पॉलिसी को पहले अवैतनिक प्रीमियम की तारीख से 2 साल पहले पुनर्जीवित किया जा सकता है।
    • Suicide यदि बीमाकर्ता 12 माह से पहले आत्महत्या कर लेता है तो उसे भुगतान किए गए प्रीमियम का 80% ही वापस लौटाया जाएगा.
    • Free Lookup Period यदि कोई पॉलिसी धारक संतुष्ट नहीं है, तो पॉलिसी खरीदने के 15 दिनों के अंदर पॉलिसी वापस कर सकता है.

People may salo search : jeevan lakshya kanyadan policy, lic 833 plan details in hindi, lic jeevan lakshya policy in hindi, jeevan lakshya plan, lic jeevan lakshya benefits, lic jeevan lakshya premium chart.

Subscribe for Quick Update

About the Author: Guruji Tips

Guruji Tips is a website to provide tips related to Blogging, SEO, Social Media, Business Idea, Marketing Tips, Make Money Online, Education, Interesting Facts, Top 10, Life Hacks, Marketing, Review, Health, Insurance, Loan and Internet-related Tips. यदि आप भी अपना Content इस Blog के माध्यम से publish करना चाहते हो तो कर सकते हो. इसके लिए Join Guruji Tips Page Open करें. आप अपना Experience हमारे साथ Share कर सकते हो. धन्यवाद !
loading...

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *