बिज़नेस क्या है? What is Business in Hindi

Business Kya hai, What is Business in Hindi. आज के समय में सभी लोगों का झुकाव व्यवसाय कि तरफ हो गया है. व्यवसाय हो या नौकरी या कोई भी काम शुरू करने से पहले उसके बारें में सभी जानकारी का होना जरूरी है.

पैसा कमाने का कई तरीका है. लेकिन, ज्यादा से ज्यादा पैसा कमाने के लिए व्यवसाय ही करना होगा. यही एक मात्र रास्ता है जिससे, जितना चाहते हो उतना धन अर्जित किया जा सकता है.

यदि कोई फिक्स सैलरी में नौकरी करने वाले व्यक्ति के पास अगाध पैसा हो तो इसका मतलब या तो पुरानी संपत्ति है या दूसरा क्या हो सकता है आप समझ सकते हो.

Business Kya hai इसके बारें में विस्तार से इस पोस्ट में बताया गया है. यदि आप व्यवसाय शुरू करना चाहते हो तो यह जानकारी आपके लिए बहुत उपयोगी है.

Business Kya Hai व्यवसाय क्या है?

व्यवसाय (Business) की शुरुआत उपभोक्ताओं को उत्पादन या या सेवा प्रदान करने के लिए किया जाता है. इसे कंपनी, फर्म, इंटरप्राइजेज भी कहते हैं. व्यवसाय बहुत बड़ा क्षेत्र है जिसके अंतर्गत व्यापार, उत्पादन और गुणवत्ता सभी कार्य शामिल है.

बिज़नस वस्तुओ और सेवाओं के निरंतर उत्पादन और उसे उपभोक्ता तक पहुचाने की एक आर्थिक प्रक्रिया है. दूसरे शब्दों में बिज़नस का उद्देश्य वस्तु उत्पादन और सेवाओं से मानवीय इक्षाओं की पूर्ति कर लाभ कमाया जाता है. 

लाभ कमाने के उद्देश्य से वस्तुओं और सेवाओं का उत्पादन कर इसे ग्राहक तक पहुंचाने के लिए कई प्रक्रिया से गुजरना होता है. जैसे कंपनी >> ट्रांसपोर्टर >> व्होलसेलर >> रिटेलर >> ग्राहक.

Definition of Business in Hindi बिज़नेस की परिभाषा

बिज़नस वस्तुओ और सेवाओं के निरंतर उत्पादन और उसे उपभोक्ता तक पहुचाने की एक आर्थिक प्रक्रिया है. दूसरे शब्दों में बिज़नस का उद्देश्य वस्तु उत्पादन और सेवाओं से मानवीय इक्षाओं की पूर्ति कर लाभ कमाया जाता है.

Business (व्यवसाय) का तात्पर्य एक ऐसे संस्था से है जो गूड्स (सामान) सर्विस (सेवा) देने के लिए कुछ शुल्क लेती है. बिज़नस का उद्देश्य लाभ कमाना होता है.

Business is work relating to the production, buying, and selling of goods or services.

business is an organization that produces and sells goods or which provides a service.

व्यापार (Trade/Business) का मतलब खरीद और बिक्री से है. दूसरे शब्दों में, एक व्यक्ति या संस्था से दूसरा व्यक्ति या संस्था को सामान के स्वामित्व का अंतरण व्यापार कहलाता है. स्वामित्व का अंतरण सेवा या मुद्रा के बदले किया जाता है.

business kya hai

पूँजीवादी अर्थव्यवस्थाओं में व्यापार को अहम् स्थान दिया गया है. किसी देश की व्यवस्था को चलाने के लिए देश में ज्यादा से ज्यादा व्यापारी वर्ग का का होना जरूरी है.

सरकार के पास इन्हीं व्यापारी वर्ग से टैक्स के रूप में पर्याप्त धन आता है. जिससे सरकारी कर्मचारी को तनख्वाह दिया जाता है. कुछ लोग जिनका मानना हो नौकरी में ज्यादा पैसा है ऐसा बिलकुल नहीं है.

नौकरी में निश्चितता है. लेकिन लोक डाउन लगने के बाद से नौकरी की निश्चितता भी लगभग खत्म सा हो गया है. इस कोरोना काल में भी यदि कोई बिज़नस बहुत ज्यादा आगे बाधा है तो वह शिक्षा जगत (Education Industry) है.

सरकारी काम और सरकारी नौकरी करने वालों को तनख्वाह और सरकार के खर्च को चलने के लिए व्यापार बहुत जरूरी है. व्यवसायी लाभ कमाने के लिए काम करते हैं.

सरकार की संस्था और सरकारी संस्था भी व्यापार करती है. लेकिन, यह लाभ की जगह लोक कल्याण के लिये काम करती है. देश के प्रसिद्ध Business Coach Motivational Speaker Dr. Vivek Bindra जी का सपना है – हर घर में एक व्याव्द्सयी हो.

यदि आप व्यवसाय कि बारीकियों को सीखना चाहते हैं तो नीचे दिया गया पोस्ट जरूर पढ़िए.

IBC kya Hai | IBC क्या है? IBC कैसे बने और कितना कमा सकते हैं?

Types of Business – व्यवसाय के प्रकार

हमारे आसपास में मौजूद सभी लोग किसी न किसी कार्य में व्यस्त है. जैसे किसान खेत में काम करता है, चिकित्सक मरीज का इलाज करता है, शिक्षक शिक्षा देने का काम कर रहा है, हर व्यक्ति अपने कार्यों में व्यस्त है.

लोगों का अपने कामों में व्यस्त रहने का वजह है जीवन जीने के लिए धनोपार्जन करना जिससे आवश्यकता की पूर्ति हो सके. कुछ लोग इतना काम कर देश और दुनिया के अमीर व्यक्ति के श्रेणी में आ जाते हैं तो कुछ सिर्फ आवश्यकताओं की पूर्ति कर पाते हैं.

मानव दो तरह के कार्यों में व्यस्त है.

अनार्थिक कार्य

वैसे कार्य जो धन अर्जित करने के वजय संतुष्टि प्राप्त करने, सेवा के उद्देश्य से की जाती हैं उसे अनार्थिक कार्य कहते हैं. इसमें सामाजिक उत्तरदायित्वों की पूर्ति, स्वास्थ्य लाभ, कुछ ऐसी योजना जिससे लोक कल्याण हो सके.

इसमें वह सभी काम शामिल है जो हम करते तो हैं लेकिन, इससे किसी तरह का आर्थिक लाभ नहीं होता है. बहुत लोग ऐसे हैं जो सब कुछ जानते हुए भी अनार्थिक कार्य में लगे हुए हैं जीवन सार्थक तभी है जब कम से कम जरूरत के साथ कुछ इच्छा कि भी पूर्ति हो सके.

यदि आपका जीवन सिर्फ जरूरत पूरा करने में निकल जाता है तो उस जीवन का कोई फायदा नहीं इसीलिए व्यापार में धनोपार्जन के लिए कुछ बड़ा और सुव्यवस्थित कदम उठाना बहुत जरूरी है.

व्यापार से संबंधित मदद के लिए आप 9056693577 पर संपर्क कर सकते हैं.

आर्थिक कार्य

वैसा काम जो आर्थिक लाभ (धन अर्जित) करने के उद्देश्य से की जाती हैं. इसमें कार्य का मुख्य उद्देश्य धनोपार्जन ही है.

जैसे शिक्षक धन कमाने के लिए शिक्षा देने का काम करता है. किसान फसल बेच कर पैसा कमाने के लिए खेत में काम करता है. सरकारी और निजी संस्थानों में कार्य करने वाला व्यक्ति वेतन के लिए कार्यालय या कारखाने में काम कर मजदूरी लेता है.

आर्थिक कार्य मुख्य रूप से तीन तरह से किया जाता है.

नौकरी : नौकरी भी व्यवसाय ही है. यह एक ऐसे धंधे को सम्बोधित करता है. जिसमें व्यक्ति समय से दूसरों के लिए कार्य करता है और उसके बदले में वेतन अथवा मजदूरी प्राप्त करता है.

सरकारी कर्मचारी, कंपनियों के कार्यकारी, बैंक कर्मचारी, फैक्ट्री मजदूर आदि नौकरी में संलग्न माने जाते हैं. नौकरी में मिलने वाला वेतन काम के घंटे और व्यक्ति के कार्य कुशलता पर निर्भर करता है.

सामान्य तौर पर नौकरी देने वाला कर्मचारी का वेतन, समय और अन्य शर्तों को तय करता है.

पेशा : डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, ये सब पेशेवर होते हैं. एक व्यक्ति सभी क्षेत्र का विशेषज्ञ नहीं हो सकता है. ऐसा में हमें दूसरे क्षेत्रों के विशेषज्ञ व्यक्तियों की आवश्यकता होती है.

किसी कानूनी सलाह के लिए वकील से मिलना होता है, बीमार होने पर डॉक्टर से मिलना होता है. ये सभी व्यक्ति पेशे से जुड़े लोग हैं. पेशेवर व्यक्ति अपने ज्ञान से धन अर्जित करता है.

व्यवसाय : व्यवसाय के बारें में ऊपर बता ही चुके हैं.

फाइनेंस क्या है What is Finance in Hindi

All Bank Toll Free Customer Care Number List

Quality of Business – व्यवसाय की विशेषता

बिज़नेस लिखने पढ़ने में जितना छोटा लगता है. वास्तव में यह बहुत ही व्यापक शब्द है. हम सभी बिज़नस से परिचित है, लेकिन बिज़नस को कुछ शब्दों में परिभाषित करना थोड़ा मुश्किल जरूर है.

बिज़नेस जितना बड़ा होता है. समझने में उतना ही ज्यादा समय लग जाता है. जैसे नौकरी, पेशा की कुछ विशेषता होती है. वैसे ही बिज़नेस की कुछ अलग ही विशेषता होती है.

Business Kaise Kare Full Guide in Hindi

वस्तु और सेवा का लेन-देन

व्यवसाय में लोग वस्तु और सेवा का खरीद बिक्री करते हैं. व्यवसाय कई तरीका का होता है.

इस ब्लॉग पर बिज़नेस आईडिया भी शेयर किया जाता है. यदि किसी बिज़नेस आईडिया के बारें में जानना हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हो.

व्यवसाय में उत्पादन से ग्राहक तक पहुंचने के लिए कई काम किया जाता है.

वस्तु और सेवा का विक्रय

व्यवसाय में दो लोग होते हैं एक वह जो सामान खरीदेगा दूसरा वह जो सामान बेचेगा. यदि कोई व्यक्ति खुद के लिए या किसी को बिना किसी मूल्य में देने के लिए उत्पादन का काम करता है तो यह व्यवसाय की श्रेणी में नहीं आता है.

व्यवसाय का सीधा मतलब मुनाफा से है. क्यूंकि, व्यवसाय का मुख्य उद्देश्य लाभ कमाना होता है.

इसके अलावे यदि कोई अपना पुराना सामान किसी को बेचता है तो यह भी व्यवसाय की श्रेणी में नहीं है.

यदि कोई पुराना सामान खरीदने बेचने का काम करता है तभी वह व्यवसाय है.

व्यवसाय के लिए निवेश

किसी भी बिज़नेस की शुरुआत के लिए कैपिटल की जरूरत होती है. यह कैपिटल (पूँजी) शुरूआती पूँजी, आने वाले समय में कर्मचारी का वेतन, जगह का किराया देने के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

यह पूँजी खुद का हो सकता है या किसी बैंक से लोन या किसी निवेशक का निवेश.

व्यवसाय का उद्देश्य

व्यावसाय का मुख्य उद्देश्य लाभ कमाना होता है. व्यवसाय छोटा हो या बड़ा उसमें जो कुछ भी किया जा रहा है. उसका मकसद सिर्फ और सिर्फ लाभ कमना है.

कुछ बिज़नेस ऐसे हैं जिसमें बहुत कम लागत से बहुत अच्छा पैसा बनाया जा सकता है. लेकिन कुछ ऐसे भी बिजनेसमैन हैं जिन्होनें कमाया तो नहीं लेकिन जो पूँजी था वो भी गवां दिया.

लाभ के बिना व्यवसाय को चालू रखना संभव नहीं है. इसीलिए व्यवसाय आय की अनिश्चितता और जोखिम से भरा हुआ है.

Business शुरू करने से पहले किन बातों का रखे ख्याल

Business Idea बिज़नस आईडिया

बिज़नस शुरू करने से पहले एक आईडिया का होना जरूरी है. कुछ दिन पहले एक बिज़नस प्लान के बारें में एक दोस्त के साथ बात हो रही थी मेरा सवाल था इस तरह का बिज़नस धरातल पर संभव है क्या?

उसका जवाब था हमारे दिमाग में जो कुछ भी आता है वह संभव है. जिस तरह से आप करने की सोचते हो बस उस तरह से करना शुरू कर दो. दिक्कत सिर्फ इतनी है हम जिस तरह से करने की सोचते हैं जो प्लान पेपर पर लिखा जाता है उस तरीके से धरातल पर नहीं किया जाता है.

कोई भी बिज़नस आईडिया अच्छा या खराब नहीं होता है. बल्कि उसे करने का तरीका अच्छा या खराब होता है.

किसी भी व्यक्ति को उसी बिज़नस आईडिया के साथ आगे बढ़ना चाहिए जिसमें उसका रूचि हो जिसके बारें में पता हो और सबसे जरूरी बिज़नस के शुरूआती दिनों में अपना सर्वस्व समर्पण कर दो. आपको कुछ और नहीं दिखना चाहिए.

Business Research व्यापार मंथन

सफल व्यवसायी बनने के लिए Business Research बहुत जरूरी है. आप जिस तरह का व्यापार करना चाहते हैं उसका भविष्य क्या है. अभी उसमें कितना प्रतिस्पर्धा (Competition) है. कैसे लोग उस व्यापार में हैं?

Business Plan बिज़नस प्लान कैसे लिखें

Business Skills बिज़नस स्किल पर काम

Business Registration कागजी कार्यवाही

Business Launching

Guruji Tips to Start a Business

यदि आप व्यापार शुरू कर रहे हैं तो निर्भर करता है कि आप कौन सा व्यापार शुरू करना चाहते हैं. उसके अनुरूप आपको सावधानियां और उसकी तैयारी में लगना होता है. लेकिन कुछ चीजे ऐसी भी जो हर व्यापार में पहले सोच लेनी चाहिए.

  • जो भी व्यापार कर रहे हो उसके लिए मार्केटिंग का ऑप्शन पहले से ही फिक्स करके लो.
  • आप जो भी व्यापार करोगे उसके संबंध में पूरी जानकारी आपको होनी चाहिए.
  • अभी मार्केट में उस व्यापार में कितने और कौन से प्रतिद्वंद्वी (Competitot) है. वो कैसे कर रहे है इसका पता होना चाहिए.
  • व्यापार के लिए लगने वाले जरूरत की चीजो को पहले सभी ठिकानों पर क्वालिटी और कीमत देकर ही खरीदे.
  • व्यापार में पहले मुनाफा हो या फिर घाटा, व्यापार 1 साल के अंदर कभी मत बंद करना.

You May Also Read

मुफ्त में व्यापार का प्रचार प्रसार कैसे करें Business Advertisement Tips

Top 10 Best Direct Selling companies in India

ग्राहक सेवा केंद्र क्या है Grahak Seva Kendra

कॉलेज स्टूडेंट के लिए पार्ट टाइम जॉब Part time job for student

उम्मीद है business kya hai, व्यवसाय किसे कहते हैं यह जरूर समझ आ गया होगा.

यदि बिज़नेस से सम्बंधित कोई प्रश्न हो तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं. हम आपके सवालों का जवाब देने की भरपूर कोशिश करेंगे.

बिज़नस को और बेहतर समझने के लिए नीचे दिये गए लिंक पर क्लिक कीजिये – IBC kya Hai | IBC क्या है? IBC कैसे बने और कितना कमा सकते हैं? और अधिक जानकारी के लिए नीचे कमेन्ट कर सकते हैं या 9056693577 पर फोन कर सकते हैं.

बिज़नस कार्य करने की प्रक्रिया होती है. जिसमें खुद जिम्मेदारी लेना होता है. एक समय आने के बाद बिज़नस मानव के लिए आजादी का एहसास पैदा करती है और आज़ादी भी देती है.

जो लोग दूसरों के लिए काम नहीं करना चाहते है, वो बिज़नस कि तरफ रुख करते हैं.

यदि आप आपने सपने के लिए मेहनत नहीं कर सकते हैं तो कोई और आपको अपना सपना पूरा करने के लिए कुछ शुक्ल में नौकरी दे देगा.

यदि यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो Spread the love Please Share...
Ashu Garg

Guruji Tips is a website to provide tips related to Blogging, SEO, Social Media, Business Idea, Marketing Tips, Make Money Online, Education, Interesting Facts, Top 10, Life Hacks, Marketing, Review, Health, Insurance, Loan and Internet-related Tips. यदि आप भी अपना Content इस Blog के माध्यम से publish करना चाहते हो तो कर सकते हो. इसके लिए Join Guruji Tips Page Open करें. आप अपना Experience हमारे साथ Share कर सकते हो. धन्यवाद !

6 thoughts on “बिज़नेस क्या है? What is Business in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published.