शाम के बाद महिलाओं के साथ ऐसा नहीं कर सकते हैं !

Human Rights in India in Hindi. पृथ्वी पर जितने भी सजीव जगत की वस्तुए हैं, उनका इस पृथ्वी पर बराबर का अधिकार है. लेकिन, जब बात मनुष्य जाती की आती है तो जन्म लेने से पहले भी उसका कुछ अधिकार होता है साथ ही जब कोई बच्चा जन्म लेता है तो कुछ मौलिक अधिकारों के साथ जन्म लेता है.

कुछ अधिकार हमारा परिवार, कुछ समाज, कुछ देश तो कुछ दुनिया देती है. लेकिन कई लोग अपने अधिकार के बारें में नहीं जानते हैं. यदि वो अधिकार के बारें में नहीं जानते हैं तो कभी – कभी उनका हनन भी किया जाता है.

कभी किसी के अधिकार का हनन नहीं हो इसके लिए इसके लिए उन्हें कानूनी अधिकारों के बारें में पाता होना चाहिए. आज के जानकारी में हमनें देश के कानून के अंतर्गत आने वाले 5 महत्वपूर्ण तथ्य के बारें बात किया है.

Human Rights in India

भगवान श्री कृष्ण ने भी गीता में बताया है. अपने अधिकार मांगो, अपने अधिकार के लड़ो. ऐसे में हम सभी देशवाशियों को अपने अधिकार और कर्तव्य का ज्ञान होना बहुत जरूरी है.

Police arrest girl
Pic Source : jhansitimes.com

India में Graduates बरोजगार क्यूँ हैं ?

ये वो महत्वपूर्ण तथ्य है, जो हमारे देश के कानून के अंतर्गत आते तो है पर हम इनसे अंजान है. हमारी कोशिश होगी कि हम आगे भी ऐसी बहुत सी रोचक बातें आपके समक्ष रखे, जो आपके जीवन में उपयोगी हो.

पुलिस अफसर आपकी शिकायत लिखने से मना नहीं कर सकता 

Police Station Complaign

भारतीय महिला को जरूर पता होना चाहिए कानूनी अधिकार

आईपीसी के सेक्शन 166ए के अनुसार कोई भी पुलिस अधिकारी आपकी कोई भी शिकायत दर्ज करने से इंकार नही कर सकता.

अगर वो ऐसा करता है तो उसके खिलाफ वरिष्ठ पुलिस दफ्तर में शिकायत दर्ज कराई जा सकती है.

अगर वो पुलिस अफसर दोषी पाया जाता है तो उसे कम से कम 6 महीने से लेकर 1 साल तक की जेल हो सकती है या फिर उसे अपनी नौकरी गवानी पड़ सकती है.

सिलेंडर फटने से जान-माल के नुकसान पर 40 लाख रूपये तक का बीमा कवर

Insurance on lpg gas cylinder

INTERNET से पैसा कैसे कमायें ?

पब्लिक लायबिलिटी पॉलिसी के तहत अगर किसी कारण आपके घर में सिलेंडर फट जाता है और आपको जान-माल का नुकसान झेलना पड़ता है तो आप तुरंत गैस कंपनी से बीमा कवर क्लेम कर सकते है.

आपको बता दे कि गैस कंपनी से 40 लाख रूपये तक का बीमा क्लेम कराया जा सकता है.

अगर कंपनी आपका क्लेम देने से मना करती है या टालती है तो इसकी शिकायत की जा सकती है.

दोषी पाये जाने पर गैस कंपनी का लायसेंस रद्द हो सकता है.

किसी भी हॉटेल में फ्री में पानी पी सकते है और वाश रूम इस्तमाल कर सकते हैं

Restaurant in Train

Police, FIR और गिरफ़्तारी से जुड़ी हुई महिलाओं के अधिकार !

इंडियन सीरीज एक्ट, 1887 के अनुसार आप देश के किसी भी हॉटेल में जाकर पानी मांगकर पी सकते है

उस हॉटल का वाश रूम भी इस्तमाल कर सकते है.

हॉटेल छोटा हो या 5 स्टार, वो आपको रोक नही सकते.

अगर हॉटेल का मालिक या कोई कर्मचारी आपको पानी पिलाने से या वाश रूम इस्तमाल करने से रोकता है तो आप उन पर कारवाई कर सकते है.

आपकी शिकायत से उस हॉटेल का लायसेंस रद्द हो सकता है.

गर्भवती महिलाओं को नौकरी से नहीं निकाला जा सकता

Pregnant Working Woman

सभी बैंक का Toll Free Customer Care Number

मैटरनिटी बेनिफिट एक्ट 1961 के मुताबिक़ गर्भवती महिलाओं को अचानक नौकरी से नहीं निकाला जा सकता.

मालिक को तीन महीने पहले की नोटिस देनी होगी और प्रेगनेंसी के दौरान लगने वाले खर्चे का कुछ हिस्सा देना होगा.

अगर वो ऐसा नहीं करता है तो उसके खिलाफ सरकारी रोज़गार संघटना में शिकायत कराई जा सकती है.

इस शिकायत से कंपनी बंद हो सकती है या कंपनी को जुर्माना भरना पड़ सकता है.

शाम के वक्त महिलाओं की गिरफ्तारी नहीं हो सकती

Police arrest girl
Pic Source : jhansitimes.com

कोड ऑफ़ क्रिमिनल प्रोसीजर, सेक्शन 46 के तहत शाम 6 बजे के बाद और सुबह 6 के पहले भारतीय पुलिस किसी भी महिला को गिरफ्तार नहीं कर सकती, फिर चाहे गुनाह कितना भी संगीन क्यों ना हो.

यदि पुलिस ऐसा करते हुए पाई जाती है तो गिरफ्तार करने वाले पुलिस अधिकारी के खिलाफ शिकायत (मामला) दर्ज की जा सकती है.

इससे उस पुलिस अधिकारी की नौकरी खतरे में आ सकती है.

You may also read

WhatsApp को Hack होने से कैसे बचाये ?

चिंता का कारण और उसके उपचार

कपल्स का कानूनी अधिकार क्या है Legal Rights of Couples

Police, FIR और गिरफ़्तारी से जुड़ी हुई महिलाओं के अधिकार !

Summary

भारतीय संविधान ने भारत के हर एक नागरिक को सामान अधिकार और इसके साथ कुछ कर्तव्य दिया है. कई लोग आपने अधिकार और कर्तव्य की जानकारी से अनभिग्य हैं. आपने अधिकारों को जाने इसका लाभ है.

कई बार जानकारी के अभाव में हमारा हनन होता है. किसी का हनन न हो इसके लिए यह पोस्ट लिखा गया है. यदि पोस्ट आपको पसंद आया तो यहां हम कानून संबंधित जानकारी भी प्रकाशित करना शुरू कर देंगें.

भारतीय कानून सबके लिए के सामान है. लकिन, कई बार ऐसा होता नहीं दिखता है. एक सामान्य व्यक्ति के लिए बेल लेना जितना मिश्किल है उतने ही आसानी से ताकतवर लोग या पैसे वाले लोग बेल ले लेते हैं.

यदि सही जानकारी होगा तो शायद कुछ हद तक कमजोर व्यक्ति भी कानून की मदद से अपनी सुरक्षा कर सकता है.

यह जानकारी ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुचाएं ताकि किसी के अधिकारों का हनन न हो सके. इस जानकारी को अपने सोशल मीडिया पर जरूर शेयर कीजिये.

NOTE – इन अधिकारों में समय के साथ परिवर्तन किया जा सकता है.

People may also search for – महिला अधिकार, महिला कानून, पुलिस संबंधित महिलाओं के अधिकार, गिरफ़्तारी संबंधित महिलाओं के अधिकार, women rights, rights of women in Hindi, Live in Relationship of women, Child rights of women, real estates rights of women, working women rights, Indian Law, Interesting Facts, human rights in India, manavadhikar in hindi.

यदि यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो Spread the love Please Share...
Riya Jha

1 thought on “शाम के बाद महिलाओं के साथ ऐसा नहीं कर सकते हैं !

Leave a Reply

Your email address will not be published.