Blogging Kya Hai – ब्लॉग्गिंग क्या है What is Blogging In Hindi

Blogging Kya Hai, ब्लॉग्गिंग क्या है (What is Blogging) कैसे है क्यूं है? यह सवाल कई लोगों के मन में तूफ़ान मचाता रहता है. क्यूंकि कई ऐसे ब्लॉगर हैं जो अपनी कमाई दिखा कर लोगों को ब्लॉग्गिंग में आने के लिए विवश कर देते हैं.

कई लोग ब्लॉग्गिंग की दुनिया में कूद तो जाते हैं लेकिन, यहां तैरना कैसे है इसे समझने में देर कर देते हैं. ब्लॉग्गिंग शुरू करने से पहले आपके मन में भी कुछ सवाल हो सकता है.

  • What is Blogging in Hindi
  • Blogging Kya Hai -ब्लॉग्गिंग क्या है?
  • Blogging Kyu karna chahiye – ब्लॉग्गिंग क्यूं करना चाहिए?
  • Blogging Kise karna chahiye – ब्लॉग्गिंग किसे करना चाहिए?
  • Blogging Kaise Karna chahiye – ब्लॉग्गिंग कैसे करना चाहिए?
  • Blogging Ki Shuruat Kaise karna chahiye – ब्लॉग्गिंग की शुरुआत कैसे करना चाहिए?
  • Blogging se Paise kaise kama sakte hai – ब्लॉग्गिंग से पैसा कैसे कमा सकते हैं?

इसके अलावे भी कई सवाल होगा. सबसे जरूरी सवाल है आप ब्लॉग्गिंग क्यूं करना चाहते हैं? ब्लॉग्गिंग के बारें में क्यूं जानना चाहते हो?

ब्लॉग्गिंग की परिभाषा

ब्लॉग्गिंग एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें हम आपने विचार, ज्ञान, या जानकारी को डिजिटल माध्यम से लोगों तक पहुंचाते हैं. जानकारी पहुंचाने के लिए जब वेबसाइट का इस्तेमाल किया जाता है तो यह ब्लॉग्गिंग कहलाता है.

किसी वेबसाइट के माध्यम से जानकारी साझा करना बहुत आसान है. यहां सभी जानकारी एक जगह इकठ्ठा रखा जा सकता है. पाठक आपने सुविधा अनुसार यह जानकारी पढ़ सकते हैं.

वेबसाइट की माध्यम से अपना विचार, जानकारी और ज्ञान साझा करने के लिए वेबसाइट बनाना होता है जिसे ब्लॉग कहते हैं, इसमें कुछ खर्च भी आता है.

कुछ लोग जानकारी सोशाल मीडिया साईट जैसे Facebook, Twitter, Instagram पर सझा करते हैं. यहां पोस्ट लिखना और पब्लिश करना बहुत आसान है. क्यूंकि यहां कोई शुल्क नहीं देना होता है.

कुछ लोग जानकारी सजह करने के लिए Whatsapp का इस्तेमाल करते हैं. Whatsapp पर जानकारी भेजना बहुत आसान है. यहां सभी जानकारी एक साथ इकठ्ठा नहीं रखा जा सकता है.

What is Blogging in Hindi

Blogging शब्द सुनते ही कई ख्याल आने लगता है. इसका मतलब ऑनलाइन डायरी होता है. जैसे कोई पर्सनल डायरी लिखता है, उसे सभी से बचा के रखता है. लेकिन यह एक Public Diary है जिसे ब्लॉगर रीडर्स के लिए लिखता है.

सभी ब्लोग्गेर्स चाहता है ज्यादा से ज्यादा लोग उसके इस पब्लिक डायरी को पढ़ें. ब्लॉग्गिंग सदी का डिमांड बनता जा रहा है. सभी ब्लॉगर बन ऑनलाइन पैसा कमाना चाहते हैं.

क्या ब्लॉगर ऑनलाइन पैसा कमा भी रहे हैं? यदि कमा रहे हैं तो कितना कमा रहे हैं? क्या इससे घर खर्च चल सकता है? ऐसे कई और भी सवाल हो सकते हैं.

Blogging Kya Hai

ऑनलाइन पैसा कमाना उतना आसान नहीं है जितना आप सोचते हो. लेकिन बहुत ज्यादा कठिन भी नहीं है. ऑनलाइन काम (Blogging) कर जो पैसा मिलता है वह Passive Income होता है. 

Passive Income की वजह से लोग Blogging में अपना Career ढूंढ रहे हैं. शुरुआत में यह बहुत कठिन है लेकिन कुछ दिनों के मेहनत के बाद लगातार फल मिलता रहेगा.

कुछ किसान गेहूं, चना, मक्का, धान आदि बोते हैं. लेकिन कुछ आम, लीची, कटहल का बगीचा लगते हैं. बगीचा वाले किसान Passive Income कमाते हैं. उन्हें सिर्फ शुरुआत में मेहनत करना होता है.

10 से 12 साल तक धैर्य (Passense) रखना होता है. ठीक उसी तरह जिनके पास Passense नहीं है Blogging उनके लिए नहीं है.

Blogging Kya Hai

Blogging का हिंदी मतलब वेबदैनिकी है और Blogger को हिंदी में चिट्ठाकार कहते हैं.

Blogger अपने ब्लॉग पर हमेशा कुछ नई जानकारी के साथ अपने readers से मिलता है और उसकी कोशिश होती है ज्यादा से ज्यादा रीडर्स उसको मिले.

Blog or Website में ज्यादा फर्क नहीं है नियमित रूप से सूचनाओं को वेबसाइट के माध्यम से लोगों तक पहुंचाना Blogging कहलाता है.

जिस Website के माध्यम से सूचना या विचार Share करते हैं उसे Blog कहते हैं.

What is Blogging

यह ऑनलाइन सदी है. यहाँ सब कुछ ऑनलाइन हो गया है. अब तो प्यार और शादी भी ऑनलाइन होने लगा है.

आज करीब 100 करोड़ से भी ज्यादा वेबसाइट और ब्लॉग मौजूद है. ऐसे में ब्लॉग अपनी आवाज को पूरी दुनिया तक पहुँचाने का एक मंच है.

पत्रकार, लेखक, कवि, संगीतकार, खिलाड़ी, शिक्षक, डॉक्टर, विद्यार्थी, व्यापारी, कर्मचारी या फिर चाहे कोई भी व्यक्ति जो दुनिया से जुड़ना चाहता है वो Blog  या Website के माध्यम से अपने अपने विचारों को दुनिया तक पहुंचा सकता है.

उदाहरण के लिए यदि

  • किसी का होटल का व्यवसाय है तो वह अपने होटल की वेबसाइट बना सकता है, जिसमें वह अपने होटल के बारे में जानकारी दे सकता है और ऑनलाइन बुकिंग की सुविधा भी प्रदान कर सकता है.
  • कोई Teacher है उसका Coaching Classes है तो वह भी Website की माध्यम से Students का network बना सकता है.
  • Technical Expert है तो Technical Information Share कर सकता है.
  • कवि या लेखक अपना ब्लॉग बनाकर अपने विचार या कविताएँ हजारों-लाखों तक पहुंचा सकता है.

Blogging Kyu aur Kaise 

आज युवाओं के बीच ब्लॉग्गिंग बहुत ही उभरता हुआ Career दिख रहा है. अब इसमें Comptition बहुत हो गया है लेकिन हमेशा Competition Market में ही काम करना चाहिए. ऐसा मार्किट जिसमे Competition नहीं है उसमे काम करने में मजा नहीं आता है.

Blogging Means Help

Blogging अपने आप में एक बहुत ही शानदार क्षेत्र है. इसके माध्यम से blogger दूसरों की मदद के साथ साथ खुद की मदद भी करता है.

New Blog Post के लिए बहुत research करना पड़ता है. ऐसे में लिखने वाला तो सीखता ही है साथ ही पढने वाले को Perfect information मिल जाता है.

इसके साथ Blogger कुछ पैसे भी कमा लेता है. Blogging शुरुआत करते ही Blogger Blogging क्या है SEO Kaise Kare इस तरह के पोस्ट लिखने लगता है जो बिलकुल गलत है. 

यदि आपका टॉपिक ब्लॉग्गिंग और SEO है तभी इन टॉपिक पर पोस्ट लिखें अन्यथा कई ProBlogger हैं जो Blogging और SEO, Domain, Hosting, WordPress पर Post लिख रहे हैं.

Blogging के लिए Niche का Selection बहुत जरूरी है. यदि Multi Niche में काम कर रहे हो तो आपके पास Content Writer होना बहुत जरूरी है.

Blogging Passive Income Source

जीने के लिए पैसा कमाना जरूरी है. अब तक आपने सुना होगा इन्सान के अन्दर 5 (five) Sense (ज्ञानेन्द्रिया) होता है. आज मैं आपको एक और Sense के बारें में बताता हूँ.

Money Is Sixth Sense. पैसा छठा ज्ञानेंद्री है.

सभी लोगों का कमाने का तरीका अलग है. कुछ लोग नौकरी करते हैं कुछ Business करते हैं. कुछ Broker का काम करते हैं तो कुछ Blogging या Youtube से पैसे कमाते हैं.

Make Money Online in Hindi

शुरूआती दिनों में Blog से पैसा कमाना आसान नहीं होता है. इसके लिए Smart तरीके से Hard Work की जरूरत होती है. लेकिन यह कमाई Passive होता है.

1 साल पूरी ईमानदारी से सिर्फ और सिर्फ एक blog पर काम करने से Blog एक परिवार का खर्च उठा सकता है. Blog की Income विजिटर की संख्या, Ads Click, Visitor Location, Visitor Types पर निर्भर करता है.

आज Blogging एक करियर के रूप में उभर रहा है और ऐसे कई ब्लॉगर है जो अपने ब्लॉग से हर महीने लाखों रूपये कमा रहें है.

ब्लॉग में कमाई विज्ञापनों (Advertisement) से होती है. कई Company Blog पर Advertisement देने का काम करती है, इसमें से गूगल एडसेंस पहले नंबर पर है.

सभी ब्लॉगर Google Adsense Approval के लिए Blog को Adsense के according बनाते हैं.

Blogging Language

जिस किसी भी भाषा में अच्छी Quality का ज्यादा से ज्यादा पोस्ट Publish कर सकते हो उसे ही चुनना चाहिए. कुछ लोग Hindi को राष्ट्रभाषा कहते हैं. लेकिन ऑफिशियली कहीं भी इसका जिक्र नहीं हैं.

भारत में 22 भाषा को officially National Language का स्थान मिला हुआ है. हिंदी में ब्लॉग्गिंग करने वालों के लिए एक अच्छी बात है इन्टरनेट पर लगभग सभी जानकारी अंग्रेजी में उपलब्ध है.

यदि कोई ब्लॉगर इन सभी जानकारी को हिंदी में देता है तो भारत की आबादी 135 करोड़ के आसपास है. अब सोच लीजिए कितना पाठक मिल सकता है?

भारत में सबसे ज्यादा हिंदी बोला, पढ़ा और समझा जाता है. यदि हिंदी भाषी राज्य की बात की जाये तो Bihar, Jharkhand, Uttar Pradesh, Uttrakhand, Delhi, Madhya Pradesh, Chhatisgarh, Rajsthan, Haryana में हिंदी ज्यादा पढ़ा और बोला जाता है. इसके अलावे भी देश के सभी राज्यों में हिंदी भाषी Readers हैं.

Hindi Vs Hinglish

पूरे विश्व में 50 करोड़ से भी ज्यादा लोग हिंदी बोलते है और उसमें से केवल 10-20% लोग ही इन्टरनेट का प्रयोग कर रहे है लेकिन आने वाले समय में इसकी संख्या दो गुनी हो जाएगी.

इसलिए इन्टरनेट पर हिंदी में ब्लॉग का भविष्य सुनहरा है. हिंदी ब्लॉग की सफलता जल्दी संभव है. क्यूंकि अभी भी हिंदी में Competition कम है. बहुत कम मेहनत और समय में Hindi Blog को Search Engine में Rank करवाया जा सकता है.

जब से Google Adsense ने Hindi Content पर Approval देना शुरू कर दिया है तब से कुछ ज्यादा ही Hindi Blog मार्किट में आ गया है. लेकिन ये सब ब्लॉग Regular Update नहीं हो पता है और Blog तो कई दिखते हैं लेकिन उससे कमाई नहीं हो पाता है.

BLog Kaun Bana Sakta Hai

जिस किसी को भी Diary लिखना आता है Blog बना सकता है. Blog के लिए Programming Language का आना कोई जरूरी नहीं है.

Blogging के लिए सिर्फ लिखने आना चाहिए. यदि आपको लिखने आता है तो आप Blog बना सकते हैं.

इसके लिए कुछ Technical Skills का होना जरूरी है. जैसे Computer, Internet, MS Word, Photo Editing.

Blog बनाना बहुत आसान है उससे भी आसान है Blog बंद करना और उससे भी आसान है यह कहना की Blogging से income नहीं होता है.

जब कुछ समझ नहीं आता है तो दूसरे ब्लॉगर की पोस्ट कॉपी कर लेना. बहुत से ऐसे लोग हैं जो दूसरे का ब्लॉग पोस्ट कॉपी करते हैं. कुछ लोग हैं जो गुरूजी टिप्स का ब्लॉग पोस्ट कॉपी करके ही काम चलते हैं.

Blog बनाना बहुत आसान है लेकिन उसे चलाना बहुत कठिन है. पिछले पोस्ट में Blogging Ki Asliyat बताया गया था. जिसे काफी blogger और Readers दोनों ने बहुत ही पसंद किया.

Blog बनाने से पहले कम से कम 50 Blog Post Title लिख लें. जिससे क्या लिखें यह Problem नहीं हो. यदि Micro Niche Blogging से शुरुआत करते हो तो शानदार सफलता बहुत जल्द मिल जायेगा.

Micro Niche में भी ऐसा टॉपिक Select करें जिसे आगे Broad किया जा सके. इसके लिए Domain Name का Selection बहुत जरूरी है. Keywordless Domain Name कहीं भी किसी भी काम में Use किया जा सकता है.

Blog Kaise Banaye

Blog कई तरीके से बनाया जा सकता है. यह आपके Startup Budget पर निर्भर करता है. जैसी आपकी इन्वेस्टमेंट है उसके अनुसार Blogging की शुरुआत करो.

  • WordPress.com
  • Wix.com
  • Webs.com
  • Blogspot.com
  • Self Hosted WordPress Blog

इन सभी में से मेरा Strong Recommendation Self Hosted WordPress Blog है. Blogging के लिए Blog Setup करने से पहले आपके पास Minimum 100 Post ready होना चाहिए.

ब्लॉग बनाने के 6 (Six) महीने तक इससे कमाई की अपेक्षा नहीं रखना चाहिए. जो लोग ब्लॉग बनाने के पहले से ही सिर्फ पैसा के बारें में सोचते हैं, वो बीच में Blogging छोड़ देते हैं.

ब्लॉग्गिंग एक फलदार पेड़ की तरह है जिसमें फल कुछ वर्ष बाद ही लगते है लेकिन इसके लिए पेड़ में खाद और पानी देते रहना होता है.

बच्चे को किस तरह पाला जाता है. लेकिन, कौन जानता है बच्चा क्या बनेगा? लेकिन माँ बाप बच्चों के पालन पोषण में कोई कमीं नहीं छोड़ता है!

यदि एक Blogger भी blog को बच्चे की तरह पाले तो 1 साल में यह Blog बहुत अच्छा ROI (Return of Investment) देगा.

यदि Blogging में सफलता चाहिए तो Blogging में सफलता का मतलब समझना बहुत जरूरी है. एक Target set करना होगा. आपके अनुसार Blogging में सफलता का मतलब क्या है? अपने सफलता के मानक को Set कर काम शुरू करें.

ज्यादातर नए bloggers फेल हो जाते है क्योंकि वे ब्लॉग्गिंग के नियमों का पालन नहीं करते और कुछ नया सिखने की कोशिश नहीं करते.

इसमें पाठक के साथ सम्बन्ध बनाना पड़ता है. पाठक आपका परिवार है. उसके सभी समस्याओं को सुनना और उसका उत्तर देना जरूरी है.

कई बड़े बड़े वेबसाइट और ब्लॉगर हैं लेकिन वो सभी पाठक के कमेन्ट को न ही अप्प्रूव कर पाते हैं और न ही उनका जवाब दे पाते हैं.

ऐसे में पाठक अपने सवाल के जवाब के लिए आपके ब्लॉग पर कमेन्ट कर अपने प्रश्नों का उत्तर पाना चाहते हैं. उनके सवालों का जवाब जरूर दें.

जब कोई किसी कंपनी में काम करता है तो 8 घंटे की बात होती है और 10 घंटे से ज्यादा काम करता है. उसमे भी एक दिन Absent कर जाये तो उस दिन का पैसा नहीं मिलता है.

जब किसी कंपनी से थोड़े से लाभ के लिए तन मन के साथ करते हो तो यह आपका अपना काम है. इसमें तो समय सीमा होना ही नहीं चाहिए.

You May Also Read

Hindi Vs Hinglish : Blogging Ke Liye Kya behtar hai [Case Study ]

Free Me Blog Kaise Banaye Blogging Tips in Hindi

समय का सदुपयोग कैसे करें ? Importance Of Time

Indian Graduates बेरोजगार क्यूँ हैं ?

Blogging Related अन्य जानकारी के लिए Click करें.

Conclusion

ब्लॉग बनाने के लिए Programming Language सीखने की जरूरत नहीं है. Blogging में सफलता पाने के लिए शुरुआत के 6 महीने तन मन से बिना धन का लोभ किये काम करना होगा. कुछ जरूरी बैटन को ध्यान में रखना है. जैसे Regular Post, Comment Reply, पैसे को दिमाग से निकल दो. शुरूआती दिनों में बहुत मेहनत करना होता है और पैसे बिलकुल भी नहीं मिलता है. लेकिन, समय के असत साथ मेहनत कम और पैसे ज्यादा मिलाने लगता है. आपके absent करने से भी कोई Problem नहीं होता है. ब्लॉग्गिंग से संबंधित और भी कई पोस्ट पब्लिश किया गया है. जिसे आप पढ़ सकते हैं. कोई प्रश्न हो तो कमेंट में पूछ सकते हो.

People May Also Search – blogging kya hai, blogging kaise kare, blogging kit, blog kya hai, blog kaise banaye, blogging in hindi, what is blogging in hindi, blogging meaning in hindi, Advantages of Blogging, Blogging ke fayde, Future of Blogging,

यदि यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो Spread the love Please Share...
Ashu Garg

Guruji Tips is a website to provide tips related to Blogging, SEO, Social Media, Business Idea, Marketing Tips, Make Money Online, Education, Interesting Facts, Top 10, Life Hacks, Marketing, Review, Health, Insurance, Loan and Internet-related Tips. यदि आप भी अपना Content इस Blog के माध्यम से publish करना चाहते हो तो कर सकते हो. इसके लिए Join Guruji Tips Page Open करें. आप अपना Experience हमारे साथ Share कर सकते हो. धन्यवाद !

31 thoughts on “Blogging Kya Hai – ब्लॉग्गिंग क्या है What is Blogging In Hindi

  1. Bahut achhi jankari likhi hai aapne yah post padhne ke baad mere andar ek utsaah utpann ho gaya blogging karne ka
    thanks

  2. Blogging kya hai yah to samajh aa gaya lekin Blogging ke liye topic select kaise kare. Girls ke liye best topic kya ho sakta hai.

  3. Blogging Kya hai yah to samajh aa gaya lekin sir mere kai dost hai jo blogger hin lekin unhe 3 se 4 mahine lag jata hai 100 dollar poora karne men.

  4. सर एक बात मुझे बहुत परेशान कर रही है जिस वजह से मैं कंफ्यूज हो गया हूँ. जहाँ तक कि आप भी समझ रहे होंगे कि अब लोग टेक्स्ट से ज्यादा विडियो कंटेंट को ज्यादा देखते हैं. दूसरी तरफ, ब्लॉग्गिंग मैं अपने पैशन से ही करता हूँ जिस वजह से डेढ़ साल हो जाने के बाद भी अब तक कमाई नहीं किया है. जब मेरे ब्लॉग पर अच्छा ट्रैफिक आने लगा तो दिसम्बर में मैंने adsense के लिए अप्लाई किया था.

    लेकिन पता नहीं क्यों वो disapprove कर दिया गया. मैंने सोचा कि पैशन के साथ-साथ थोडा-बहुत कमाई भी हो जाए जिसके लिए अब मैं वर्डप्रेस पर शिफ्ट होना चाहता हूँ. लेकिन जब से मुझे अनुभव हुआ कि अब ब्लॉग्गिंग में जान नहीं रही तब से मैं कंफ्यूज हो गया हूँ कि क्या मुझे वर्डप्रेस पर पैसा लगाना चाहिए? यदि अब ब्लॉग्गिंग में जान न रही हो तो मैं वर्डप्रेस पर नहीं जाऊंगा लेकिन ब्लॉगर पर कंटिन्यू रहूँगा. आपकी क्या राय है, क्या आपके ब्लॉग्गिंग करियर पर भी डिफेक्ट पड़ा है, क्या मुझे वर्डप्रेस पर शिफ्ट होना चाहिए? अभी मेरे ब्लॉग पर औसतन 300 यूजर प्रति दिन है.

    1. आनंद कुमार जी सभी काम का एक दौर होता है लेकिन, ख़त्म नहीं होता कुछ कम या ज्यादा हो जाता है. India में 2016 में Jio आया है. लेकिन, बहार के देशों में High Speed Unlimited Internet Connections बहुत पहले से उपलब्ध था. फिर भी सबसे ज्यादा Blog famous Blog out of India का है. इसका मतलब है लोग Content पढना चाहते हैं.
      अब बात आती है WordPress पर आने की या ना आने की मतलब Invest किया जाये या नहीं. ऐसे में आप इस पोस्ट को पढ़ सकते हैं. https://www.gurujitips.in/how-to-start-blogging-with-and-without-investment/
      Wordpress Approval आपने कैसे किया था. उस वक़्त Traffic कितना था और Content क्या था ?
      अभी आपके ब्लॉग पर औसतन 300 यूजर प्रति दिन है. ऐसे में आपको अपने ब्लॉग पर ध्यान देने की जरूरत है.
      इस ब्लॉग की बात की जाये तो इसका Review Positive है.

      1. ओह धन्यवाद् गुरूजी, आपने मेरी शंकाओं को दूर कर दिया है. मैं अब इन्वेस्ट करने के लिए रेडी हूँ, रिजल्ट चाहे जो भी हो.

  5. Keep sharing more tips regarding blogging. nice article.
    is there any post regarding use of http and https in website url. what we should use from both of them

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *