फाइनेंस क्या है What is Finance in Hindi

What is Finance in Hindi फाइनेंस क्या है? आज के आर्थिक युग में हम बहुत कम उम्र में ही फाइनेंस शब्द सुन लेते हैं और हम में से कई के मन में फाइनेंस क्या है Finance meaning in Hindi यह सवाल बवाल मचाना शुरू कर देता है. लेकिन इसका सही और सटीक जवाब नहीं मिल पाता है. इस लेख में हमने बहुत ही विस्तार से फाइनेंस का मतलब क्या है? इसे समझाने का प्रयास किया है.

Finance Meaning in Hindi

Finance meaning in hindi अक्सर हम सुनते है फाइनेंस डिपार्टमेंट, फाइनेंस जॉब, फाइनेंस मिनिस्टर, फाइनेंस सलाहकार आखिर फाइनेंस का मतलब क्या है? What is Finance in Hindi फाइनेंस (Finance) को हिंदी में क्या कहते हैं? आपने बचपन में पढ़ा होगा लगभग शब्द French या Latin भाषा से ही निकलता है. Finance के साथ भी ऐसा ही हुआ है. फाइनेंस शब्द फ्रेंच (French) भाषा से लिया गया है. जिसका हिंदी मतलब वित्त होता है. फाइनेंस आपने आप में बहुत ही व्यापक शब्द है इसके बारें में जितना लिखा जाये उतना कम है. आसान भाषा में कहें तो फाइनेंस कई कामर्सियल कार्यविधियों का एक ग्रुप है. फाइनेंस एक बहुअर्थीय शब्द है. किसी भी व्यक्ति, कंपनी तथा सरकार को काम के करने के लिये वित्त यानी फाइनेंस आवश्यक है.

finance kya hai

कोई भी व्यक्ति, व्यापार संस्थान तथा सरकार बिना धन या फण्ड के नहीं चल सकता है! क्यूंकि, कोई भी कार्य उर्जा के बिना संभव नहीं है !

What is Finance in Hindi फाइनेंस क्या है?

क्या कभी आपने समुद्र देखा है. फाइनेंस भी कुछ ऐसा ही है. पैसा के मामले में फाइनेंस भी समुद्र ही है. कोई भी व्यक्ति बारें में सब कुछ नहीं जनता है. इसके बारें में जितना जानकारी है उतना कम है. फाइनेंस (Finance) को हिंदी में वित्त कहते हैं. इसका मतलब है किसी भी कार्य, उत्पादन, कंपनी, व्यवस्ता को सुचारु रुप से संचालन करने के लिए जिस आवश्यक पूंजी की जरूरत है उसे फाइनेंस (वित्त) कहते हैं. पूँजी का सीधा सम्बन्ध पैसा, मुद्रा से होता है. क्यूंकि, किसी भी कंपनी, मैन्युफैक्चरिंग यूनिट, संस्था, स्टार्टअप को सुचारु रूप से चलने के लिए कुछ सेटअप लगाना होता है. यदि कर्मचारी रखा है तो उसे तनख्वाह देना होता है. यह सब कार्य पैसे से ही हो सकता है. इन आवश्‍यकताओं की पूर्ति खुद के इन्वेस्टमेंट से किया जा सकता है या कुछ संस्थाए हैं जो लोन मुहैया करवाती है. ऐसी संस्था को वित्तीय संस्था (Financial Institution) कहते हैं. आसान भाषा में वित्त या फाइनेंस की परिभाषा धन के प्रबंधन के रूप में की जाती है. लेकिन  फाइनेंस को तीन भागों में बांटा गया है.

Finance Kya Hai

Finance in hindi यह सर्च करने का मतलब है फाइनेंस को समझना चाहते हो. लेकिन फाइनेंस अपने आप में बहुत बड़ा टॉपिक है. एक पोस्ट में इसके बारें में सब कुछ बता पाना संभव नहीं है. लेकिन हर संभव प्रयास किया गया है फाइनेंस का मतलब समझा पाऊं. जब किसी उद्देश्य या व्‍यवसाय के लिए पैसों का प्रबंध किया जाता है तो यह वित्तीयन (Financing) कहलाती है. इस धनराशि के लिए कुछ कीमत चुकाना होता है. जिसे ब्याज (Interest) कहते हैं. Finance की जरूरत कंपनी, या उत्पादन कार्य शुरू करते वक़्त किया जाता है. कुछ लोग कंपनी के खर्चे को चलने के लिए भी फाइनेंसियल हेल्प ढूंढते हैं. यह बिलकुल भी नहीं करना चाहिए.

what is finance

Types Of Finance (फाइनेंस के प्रकार)

फाइनेंस के प्रकार आधुनिक युग में फाइनेंस को तीन भागों में विभाजित किया गया है.

​ऊपर बताया गया तीनों प्रकार के फाइनेंस का कार्य समान हैं जैसे सही इंवेस्ट करना, कम ब्याज पर लोन प्राप्त करना, देनदारी के लिये फंड की व्यवस्था करना और बैंकिंग का सही ज्ञान होना. लेकिन व्यक्ति, कंपनी, और सरकार के मामले में इसका मतलब बदल जाता है. सभी तरह के फाइनेंस के बारें में विस्तार से भी लेख लिखा गया है आप ऊपर दिये गए लिंक पर क्लिक कर पढ़ सकते हैं.

पर्सनल फाइनेंस क्या होता है? Personal Finance Kya Hota hai

Personal Finance का मतलब है – व्यक्तिगत वित्त का प्रबंधन Personal Money Management पर्सनल फाइनेंस”, में किसी व्यक्ति के धन की कहानी निहित है जो यह सिखाती है.

  • धन कैसे संभाला जाये.
  • धन पर नियंत्रण कैसे रखते हैं.
  • उपलब्ध धन मतलब अभी जो संपत्ति है उससे ज्यादा से ज्यादा धन कैसे बनाया जाये.

कॉरपोरेट फाइनेंस क्या होता है? What is corporate finance

Corporate Finance Kya Hai कॉर्पोरेट का मतलब है, संगठित, संयुक्त, सम्मिलित, सामाजिक, सामूहिक, क्या इतने सारे शब्दों का मतलब समझ आया? कॉर्पोरेट फाइनेंस में किसी संगठन, समाज, समूह के फाइनेंसियल प्लानिंग और फ्रीडम की बात करते हैं.

पब्लिक फाइनेंस क्या है? Public Finance Kya Hai

Public Finance Kya Hai. इसमें दो शब्द है, पहला पब्लिक और दूसरा फाइनेंस पब्लिक का मतलब लोगों से है और फाइनेंस का मतलब तो पता ही है. पब्लिक मतलब लोग मतलब लोगों का पैसा तो इसका मतलब क्या है? पब्लिक मतलब जनता है और जनता किसे चुनती है? जनता सरकार को चुनती है. मतलब पब्लिक फाइनेंस में सरकार के फाइनेंसियल सिस्टम के बारें में बताया गया है. सरकार की आमदनी, खर्च और यदि किसी कारनवश सरकार को कर्ज लेना हुआ तो कर्ज कहाँ से लेती है.

Why Financial Knowledge

सफल व्यवसायी बनने के लिए या जीवन में आर्थिक छुटकारा पाने के लिए फाइनेंसियल शिक्षा का होना जरूरी है. कई ऐसे लोग हैं जिनकी कमाई लाखों में है लेकिन, वित्तीय शिक्षा के आभाव में उन्हें सिर्फ कामना ही होता है. वह कभी आगे की सोच नहीं रख पाते हैं. कुछ लोग बहुत काम उम्र में अपने काम से रिटायर हो जाते हैं लेकिन कुछ लोगों को आखिरी सांस तक काम करना होता है. इन दोनों फाइनेंसियल शिक्षा का अंतर होता है. अच्छा फाइनेंसियल नॉलेज रखने वाले व्यवसायी या नौकरी पेशा वाले हमेशा काम ब्याज दर पर ऋण प्राप्त करना चाहते है, और अपने निवेश पर ज्यादा से ज्यादा रिटर्न की उम्मीद करते हैं. यह कैसे होगा तो इसका जवाब है वित्तीय शिक्षा (Financial Eduacation). धन के प्रबंधन का विज्ञान ही फाइनेंस है. जिसमें निवेश, नकदी प्रवाह और जरूरी वित्त संसाधन प्राप्त करने की वास्तविक प्रक्रिया सिखाया जाता है.

Classification of Finance

Flipkart, Amazon, Myntra की तरह कई वेबसाइट है. जहाँ से मोबाइल या कोई अन्य सामान खरीदने के लिए फाइनेंस कंपनी फाइनेंस करती है. इसमें से एक है ZestMoney यदि यहाँ से लोन लेकर कोई भी प्रोडक्ट खरीदते हो और इनका लोन अमाउंट 3 से 6 महीने में वापिस कर दोगे तो यह कंपनी Zero Percent (0%) ब्याज दर पर फाइनेंस करता है. लेकिन यदि समय ज्यादा होगा तो ब्याज भी देना होगा. इसी तरह समय के आधार पर फाइनेंस का क्लासिफिकेशन किया गया है.

what is finance in hindi

  1. अल्‍पकालीन वित्‍त (Short Term Finance) – जब बहुत कम समय (15 महीने) के लिए ऋण लिया जाता है तो यह ऋण अल्पावधि वित्त कहलाता है.
  2. मध्‍यकालीन वित्‍त (Medieval Finance) –  इस ऋण की अवधि 15 महीने से 5 वर्ष तक की होती है और इसका उद्देश्य मैन्युफैक्चरिंग या प्रॉपर्टी के लिए होता है.
  3. दीर्घकालीन वित्‍त (Long Term Finance) –  5 वर्ष से अधिक समय के लिए जो ऋण लिया जाता है उसे दीर्घकालीन वित्‍त कहते हैं इसका उद्देश्य परिसंपत्तियों का निर्माण करने के लिए होता है.

Summary What is Finance in Hindi

Finance Kya Hai, फाइनेंस का मतलब आप बहुत अच्छे से समझ चुके हैं. फाइनेंस का रूपया पैसा से है यह धन राशि किसी व्यक्ति या किसी संस्था या सरकार का हो सकता है. Finance से सम्बंधित आगे भी कई आर्टिल्स पब्लिश किया जायेगा. यदि फाइनेंसियल एजुकेशन में आपका इंटरेस्ट है तो नीचें अपना ईमेल से गुरूजी टिप्स का नोटिफिकेशन सब्सक्राइब कर लें. फाइनेंसियल एजुकेशन के लिए कुछ किताब है जिसे पढ़ सकते हो. लेकिन, यदि किताब पढ़ने का समय नहीं है तो यूट्यूब वीडियो भी देख सकते हो. कुछ ऐसे यूट्यूबर हैं जो लगातार फाइनेंसियल एजुकेशन पर बहुत ही जानकारी से भरा वीडियो बना रहे हैं.

You May Also Read

फाइनेंस के कुछ बातें जो हमें कभी नहीं भूलना चाहिए

NPA क्या होता है?

Business Ke Liye Loan Apply Kaise Kare Full Guide

बैंक लोन का फायदा और नुकसान Pros and Cons of Bank Loan

Top 10 Finance Companies in Delhi

उम्मीद है फाइनेंस (Finance) शब्द का मतलब जरूर समझ आ गया होगा. फाइनेंस अपने आप में बहुत बड़ा सागर है. लेकिन बहुत दुःख की बात है किसी भी शैक्षणिक संसथान में फाइनेंसियल एजुकेशन वित्तीय शिक्षा नहीं दी जाती है. ऐसे में हमारा यह प्रयास है आप तक वित्तीय शिक्षा की समझ को लेकर आये. यदि आप भी कुछ शेयर करना चाहते हो तो हमसे संपर्क कर सकते हो.

People May Also Search : best finance blogs india, best finance bloggers in india, best finance blogs in hindi, finance meaning in hindi, finance knowledge in hindi, finance kya hai, what is finance, finance kya hota hai,

यदि यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो Spread the love Please Share...
Guruji Tips

Guruji Tips is a website to provide tips related to Blogging, SEO, Social Media, Business Idea, Marketing Tips, Make Money Online, Education, Interesting Facts, Top 10, Life Hacks, Marketing, Review, Health, Insurance, Loan and Internet-related Tips. यदि आप भी अपना Content इस Blog के माध्यम से publish करना चाहते हो तो कर सकते हो. इसके लिए Join Guruji Tips Page Open करें. आप अपना Experience हमारे साथ Share कर सकते हो. धन्यवाद !

11 thoughts on “फाइनेंस क्या है What is Finance in Hindi

  1. आपने बहोत अच्छा बताया है इसे पढकर पुरी जनाकारी मिली है.इसे और थोडा डीटेल्स मे बतावो.

  2. Itne achche lekh ke liye bahut dhanyawaad. Aaj ke zamaane me atleast basic financial terms ki jaankari rakhna bahut zaroori hai. Humne bhi is vishay ko lekar ek entertaining video banaya hai jisme humne logon se kuch finance se judi terms ke baare me pooncha. Aapko woh zaroor pasand aayega.

Leave a Reply to Guruji Tips Cancel reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *